नई दिल्ली: पंजाब में बिहार के प्रवासी मजदूर की छह वर्षीय बेटी के साथ दुष्कर्म और हत्या की घटना पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने राज्य की कांग्रेस सरकार और राहुल गांधी पर निशाना साधा है. कहा है कि पॉलिटिकल टूर करने की जगह राहुल गांधी को टांडा जाना चाहिए, जहां बिहार की छह साल की बेटी के साथ इतनी बड़ी घटना हुई. केंद्रीय मंत्री ने अब तक आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर नाराजगी जताते हुए पंजाब की कांग्रेस सरकार के रवैये पर सवाल उठाए हैं.Also Read - Assembly Election 2022: यूपी में प्रियंका गांधी होंगी कांग्रेस का मुख्यमंत्री चेहरा? जानें क्या मिला जवाब

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा, “पंजाब के टांडा गांव में बिहार के दलित प्रवासी मजदूर की छह वर्ष की बेटी को दुष्कर्म के बाद मार दिया गया. इस दर्दनाक और शर्मसार करने वाली घटना में अभी तक अपराधी पकड़े नहीं गए हैं. हम पंजाब सरकार से अपराधियों को पकड़ने और कड़ी कार्रवाई की मांग करते हैं.” Also Read - Punjab ke CM: बंटवारे के बाद पंजाब को बसाने के लिए जाने जाते थे दूसरे मुख्यमंत्री प्रताप सिंह कैरों

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने पंजाब शासित राजस्थान और पंजाब में बेटियों के साथ दरिंदगी की घटनाओं पर चुप्पी साधने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, “राहुल गांधी पॉलिटिकल टूर पर जाते हैं, इसके बजाय उन्हें टांडा में जाना चाहिए. राजस्थान में जाना चाहिए. जहां उनकी सरकारें हैं, वहां महिलाओं के साथ कैसे अन्याय और दुष्कर्म हो रहा है, यह वो नहीं देखते. बच्ची के साथ हुई इस घटना पर न राहुल, प्रियंका गए न कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कोई टिप्पणी नहीं की.” Also Read - UP Assembly Election 2022: प्रियंका गांधी होंगी यूपी में कांग्रेस का सीएम फेस, कहा-कोई और दिखता है क्या

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा, “टांडा गांव में जिस दलित बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ वह बिहार की बेटी है. हमारे पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय सांपला जाकर पीड़ित परिवार से मिले. लेकिन कांग्रेस जिनकी वहां सरकार है, उनका कोई व्यक्ति नहीं मिला. इस घोर अन्याय और अत्याचार की हम निंदा करते हैं.”

प्रकाश जावडेकर ने कांग्रेस शासित पंजाब में बिहार की दलित बच्ची के साथ हुई इस घटना पर राजद नेता तेजस्वी यादव की खामोशी पर भी सवाल खड़े किए. उन्होंने तेजस्वी यादव से कहा, ” बिहार की बेटी पर अत्याचार पर चुप रहने वालों के साथ वो बिहार का चुनाव प्रचार करते हैं. ऐसे कैसे चलेगा? बिहार की दलित बेटी के साथ जिस तरह से टांडा गांव में अत्याचार हुआ, वह मनुष्यता पर लांछन लगाने वाली घटना है. हाथरस और बाकी जगह जाकर फोटो का अवसर तलाशने वाले राहुल गांधी टांडा क्यों नहीं जाते. राजस्थान में 10 जगह बलात्कार की घटनाएं हुईं, वहां क्यों नहीं गए. इस तरह की राजनीति नहीं चलती.”