नई दिल्लीः जी न्यूज के #IndiaKaDNA कार्यक्रम में कई बड़े मंत्रियों ने भाग लिया और देश में चल रही तमाम योजनाओं के अलावा कई सारे मुद्दों में खुलकर अपनी बात रखी. केंद्रीय कौशल विकास मंत्री महेंद्रनाथ पांडे भी इसमें शामिल हुए. उन्होंने कहा कि 2014 में भाजपा की सरकार बनने के बाद से कौशल विकास कार्यक्रमों को नई दिशा मिली है और इससे देश में नए रोजगार के साधन भी उपलब्ध हुए हैं. उन्होंने पिछली सरकारों पर इस बात का आरोप लगाया कि आजादी के बाद से अब तक कौशल विकास के मामले में हर सरकार परी तरह से फेल रही है.Also Read - देवेंद्र फडणवीस ने उद्धव ठाकरे से पूछा, अब पेट्रोल-डीजल की ऊंची कीमत के लिए कौन जिम्मेदार?

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार ने समाज के हर तबके को ध्यान में रखकर योजनाओं का क्रियान्वयन किया है और इससे गावों के विकास में भी काफी तेजी आई है. लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की प्रचंड जीत पर उन्होंने कहा कि दूसरी सभी राजनीतिक पार्टियां नए भारत की सोच को नहीं समझ पाए. Also Read - महाराष्ट्र के मंत्री ने केंद्रीय मंत्री सिंधिया से औरंगाबाद एयरपोर्ट का नाम संभाजी के नाम पर करने की मांग की, क्‍या कांग्रेस, एनसीपी नाराज नहीं होंगी ?

सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि आधुनिक भारत की राजनीति में विपक्ष खो सा गया है उसकी उपस्थिति कहीं भी नजर नहीं आती. प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘हमने कभी यह नहीं कहा कि विपक्ष का कोई एमएलए या एमपी नहीं रहना चाहिए. लोकतंत्र में सत्ताधारी पार्टी और विपक्ष दोनों की भूमिका है.’ महाराष्ट्र में चल रहे घमासान के सवाल पर कहा कि लोग कुछ भी कहें लेकिन महाराष्ट्र में सरकार भाजपा और शिवसेना की ही बनेगी. Also Read - महाराष्ट्र : मारपीट के मामले में अदालत ने शिवसेना विधायक महेंद्र दलवी को दो साल की सजा सुनाई

हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Assembly Elections 2019) में नवगठित जेजेपी के शानदार प्रदर्शन पर ZEE NEWS के IndiaKaDNA कांक्‍लेव में इसके नेता दुष्‍यंत चौटाला ने कहा कि तीन महीने की मेहनत से हरियाणा में 10 सीटें जीतकर दिखाई. चुनाव के बाद भाजपा से गठबंधन कर सत्‍ता में आने के बाद उपमुख्‍यमंत्री बने दुष्‍यंत चौटाला ने कहा कि हमने हरियाणा के हितों के लिए भाजपा से गठबंधन किया.

जनरल वीके सिंह ने कहा कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटना बहुत जरूरी था इसकी वजह से जम्मू कश्मीर के निवासी अपने आप को भारत के दूसरे राज्यों से नहीं जोड़ पाते थे. वीके सिंह ने कहा कि पिछली सरकार की गलतियों की वजह से ही 70 साल तक आर्टिकल 370 नाम की अस्‍थाई व्‍यवस्‍था बदस्‍तूर जारी रही और कश्‍मीर समस्‍या का समाधान नहीं निकल पाया.