Predator Drone: भारत की सैन्य क्षमता को और बढ़ाने के लिए अमेरिका से हम 30 प्रीडेटर ड्रोन (30 Predator Drone) खरीदने वाले हैं. पीएम नरेंद्र मोदी आज 23 सितंबर यानी आज वाशिंगटन में चार अन्य शीर्ष अमेरिकी कंपनियों के CEO से मुलाकात करेंगे व सशस्त्र ड्रोन निर्माता जनरल एटॉमिक्ट के प्रमुख से मुलाकात करेंगे. जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी अमेरिका के चार टॉप कंपनियों के सीईओ से मुलाकात करने वाले हैं.Also Read - The Great Resignation: लाखों ऑस्ट्रेलियाई अपनी नौकरी छोड़ने की तैयारी में, सैलरी नहीं सम्मान की है तलाश

अमेरिका के साथ रक्षा सौदा
बता दें कि भारत सरकार अपनी सैन्य क्षमता को बढ़ाने के लिए तीन अरब डॉलर खर्च कर 30 सशस्त्र (आर्म्ड) ड्रोन खरीदने की योजना रही है. सूत्रों की मानें तो इस योजना के अनुसार भारत की तीनों सेनाओं के लिए 10-10 एमक्यू-9 रीपर ड्रोन खरीदने जाएंगे. ड्रोन्स के भारतीय सेना में शामिल होने के बाद भारतीय सेना की क्षमता और शक्ति में इजाफा होगा और अपने पड़ोसियों पर नजर रख पाने में भारतीय सेना को आसानी होगी. Also Read - PCB प्रमुख Rameez Raja को PM Modi से खौफ, बोले- अगर वो सोच लें, तो हम बर्बाद हो सकते हैं

ड्रोन की खूबी
प्रीडेटर ड्रोन कई खूबियों से लैस होगा. इसके भारतीय सेना में शामिल होने से भारतीय सेना की शक्ति और बढ़ जाएगी. बता दें कि यह ड्रोन 9 हार्ड प्वाइंट के साथ आता है. यह ड्रोन हवा से जमीन पर मार करने वाली सेंसर और लेजर निर्देशित बम ले जाने वाली क्षमता से लैस है. वहीं UAV 50,000 फीट की ऊंचाई पर संचालित होगा. यह हवा में लगभग 27 घंटे तक टिका रह सकता है. Also Read - i-Drone: देश में पहली बार ड्रोन की मदद से पहुंचाई गई कोविड वैक्सीन