Pregnant Elephant Death Case: केरल वन विभाग ने शुक्रवार को पलक्कड़ में गर्भवती हथिनी की हत्या के मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है. इस घटना से देश भर के लाखों लोग व्यथित हो उठे थे और सभी जानवर को इंसाफ दिलाने की बात कह रहे थे. जांच टीम इस बात का भी पता लगा रही है कि हत्या का यह कृत्य अवैध शराब बनाने वालों का काम तो नहीं था, जो जंगलों में अपना काम करते हैं. Also Read - Kerala Elephant Death: केरल में हथिनी की मौत के मामले में एनजीटी ने लिया संज्ञान, समिति से मांगी रिपोर्ट

विभाग ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से कहा, “केएफडी (केरल वन विभाग) ने दोषियों की धर पकड़ शुरू कर दी है और जंगली हाथी की मौत के मामले में पहली गिरफ्तारी हुई है.” Also Read - Sand Art: गर्भवती हथिनी को सैंड आर्ट के जरिए श्रद्धाजंलि, न्याय की मांग

केरल पुलिस और वन विभाग संयुक्त रूप से इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना की जांच कर रहे हैं. Also Read - गर्भवती हथिनी की हत्या से गुस्से में है बॉलीवुड, अक्षय, वरुण समेत इन हस्तियों ने दिया ऐसा रिएक्शन 

गर्भवती हथिनी के मूल निवास स्थान साइलेंट वैली नेशनल पार्क के वन्यजीव वार्डन सैमुअल पचुआऊ ने कहा, “मामले में गिरफ्तारी की गई है.”

उन्होंने कहा, “संयुक्त जांच बहुत अच्छे से आगे बढ़ रही है. उम्मीद है मामले में और अधिक गिरफ्तारियां होंगी. अभी कुछ तय नहीं है और हम सिर्फ अनानास (जिसमें पटाखा रख के हथिनी को दिया गया) वाली थ्योरी को ही नहीं देख रहे हैं. हम उचित समय पर जवाब देंगे.”

मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन के अनुसार, तीन लोगों को गुरुवार तक हिरासत में ले लिया गया था. हालांकि, जंगलों में अवैध शराब बनाने वाले लोगों की भागीदारी जैसे अन्य पहलुओं पर भी जांच दल विचार कर रहा है.
(एजेंसी से इनपुट)