नई दिल्ली। स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दिए जाने वाले वीरता पुरस्कारों का ऐलान कर दिया गया है. इनमें सीमा पर अदम्य साहस का प्रदर्शन करने वाले कुल 112 सैनिकों का नाम शामिल है. इनमें कमांडर चेतन चीता का भी नाम शामिल है जो कश्मीर में गंभीर रूप से घायल होने के बाद चमत्कारिक रूप से मौत के मुंह से वापस लौट आए थे.

पांच जवानों को कीर्ति चक्र, 17 जवानों को शौर्य चक्र, 85 जवानों को सेना मेडल, तीन जवानों को नौसेना मेडल और दो जवानों को वायुसेना मेडल से नवाजा गया है. 112 सैनिकों में से 19 को ये सम्मान मरणोपरांत दिए जाएंगे. कीर्ति चक्र शांति काल में बहादुरी के लिए दिए जाने वाला दूसरा सबसे बड़ा पुरस्कार है.

रक्षा मंत्रालय द्वारा जारी आधिकारिक जानकारी के मुताबिक, इस साल कीर्ति चक्र के लिए चुने गए जवानों में दो जवान आतंकरोधी अभियानों में अपने प्राणों की आहुति देने वाले भी शामिल हैं. गोरखा राइफल्स के हवलदार गिरिस गुरुंग, नगा रेजीमेंट के मेजर डेविड मनलुन और सीआरपीएफ की 49 बटालियन के कमांडेंट प्रमोद कुमार को इस साल मरणोपरांत कीर्ति चक्र दिया जाएगा.

इनके अलावा गढ़वाल राइफल के मेजर प्रीतम सिंह कुन्वार को भी कीर्ति चक्र के लिये चुना गया है. राष्ट्रपति रामनाथ कांविंद ने इस साल सैन्य और अर्धसैन्य बल के जवानों को दिए जाने वाले कुल 112 वीरता पुरस्कारों की सूची को मंजूरी प्रदान की है. हालांकि सरकार ने इस साल वीरता सर्वोच्च सम्मान अशोक चक्र के लिए किसी नाम की घोषणा नहीं की है. राष्ट्रपति ने पांच कीर्ति चक्र, 17 शौर्य चक्र, 85 सेना पदक (वीरता), तीन नौसेना पदक और दो वायु सेना पदक के विजेताओं की सूची को मंजूरी प्रदान की है.

‘भारत के वीर’ विषय पर लाइव ट्विटर वॉल का शुभारंभ

केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने स्वतंत्रता दिवस 2017 की पूर्व संध्या पर भारत के वीर वेब पोर्टल को प्रोत्साहित करने के लिए एक लाइव ट्विटर वॉल का शुभारंभ किया. इस अवसर पर राजनाथ सिंह के अलावा केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री श्री हंसराज गंगाराम अहीर और श्री किरेन रिजिजू ने भारत के वीरों के लिए अपने एक माह के वेतन का योगदान दिया.

राजनाथ सिंह ने कहा कि सुरक्षा बलों ने अपने कर्तव्य का निर्वहन करते हुए सर्वोच्च बलिदान दिया है और लोगों को जवानों के परिवारों की मदद के लिए इनके साथ खड़े होने की आवश्यकता है. सोशल मीडिया जागरूकता अभियान, सभी ट्विट्स को हैशटेग भारत के वीर (#BharatKeVeer) के साथ नई दिल्ली में कनॉट प्लेस, सीजीओ कॉम्पलेक्स और खान मार्केट में लगाई गई एलईडी स्क्रीन पर प्रदर्शित करेगा. इस हैशटेग के लिए ईमोजी का भी निर्माण किया गया है.

भारत के वीर पोर्टल का शुभारंभ केन्द्रीय गृह मंत्री और अभिनेता अक्षय कुमार ने 9 अप्रैल 2017 को किया था. यह पोर्टल एक जनवरी 2016 और उसके बाद अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने के दौरान शहीद हुए केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल के परिवारों तक ऑनलाइन माध्यम से सीधे मदद मुहैया कराने की सुविधा उपलब्ध कराता है.

भाषा इनपुट