केवड़िया (गुजरात): देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की पुण्यतिथि पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुजरात के नर्मदा जिले में स्थित उनकी विशाल प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ पर श्रद्धांजलि अर्पित की. कोविंद के साथ गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी और राज्य के मुख्य सचिव जे एन सिंह भी मौजूद थे. अपनी यात्रा की शुरुआत उन्होंने 182 मीटर ऊंची प्रतिमा के पास विकसित ‘फूलों की घाटी’ की सैर से की.

 

पटेल की याद में एक वृक्ष लगाने के बाद राष्ट्रपति ने प्रतिमा परिसर में एक प्रार्थना सभा में भी हिस्सा लिया. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पटेल को समर्पित दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा का अक्टूबर में अनावरण किया था. पटेल को श्रद्धांजलि देने के बाद कोविंद ने प्रतिमा के तल में स्थित संग्रहालय और प्रदर्शनी स्थल का दौरा किया इसके अलावा वह प्रतिमा के अंदर 132 मीटर की ऊंचाई पर स्थित एक दर्शक दीर्घा भी गए. इसके बाद कोविंद प्रतिमा से करीब पांच किलोमीटर की दूरी पर स्थित केवड़िया गांव में रेलवे स्टेशन की आधारशिला रखने के लिए रवाना हुए.

15 दिसंबर: आज ही दिन दुनिया को अलविदा कह गए थे सरदार वल्लभ भाई पटेल

20 करोड़ रुपये की लागत से बनेगा रेलवे स्‍टेशन
आधुनिक रेलवे स्टेशन को करीब 20 करोड़ रुपये की लागत से बनाने का प्रस्ताव है. इसका उद्देश्य स्टैच्यू ऑफ यूनिटी देखने आने वाले पर्यटकों के लिये सीधा रेल संपर्क उपलब्ध कराना है. मुख्य ब्रॉड गेज लाइन के साथ केवड़िया को जोड़ने के लिये रेलवे ने 18 किलोमीटर लंबे दभोई-चांदोद नैरो गेज को ब्रॉड गेज में तब्दील करने और चांदोद से केवड़िया तक 32 किलोमीटर लंबी नयी रेलवे लाइन के निर्माण कार्य को मंजूरी दी है.