नई दिल्ली. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद गुरुवार को संसद के दोनों सदनों के संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगे. इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में बनी नई सरकार का कार्यकाल विधिवत रूप से शुरू हो जाएगा. साथ ही लोकसभा में बजट सत्र की भी औपचारिक शुरुआत होगी. लोकसभा और राज्यसभा के संयुक्त सत्र को किए जाने वाले अपने संबोधन में राष्ट्रपति द्वारा सरकार की कार्ययोजना पर विस्तार से जानकारी दिए जाने की उम्मीद है. मीडिया रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण में मोदी सरकार के ‘न्यू इंडिया’ की तस्वीर दिखने की उम्मीद है. वहीं, इससे पहले बुधवार को लोकसभा के अध्यक्ष का चुनाव संपन्न हुआ, जिसमें कोटा से भाजपा सांसद ओम बिड़ला को सभी दलों का समर्थन मिला. ओम बिड़ला को लोकसभा में निर्विरोध रूप से स्पीकर चुन लिया गया.

संसद के संयुक्त सत्र में होने वाले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण में मोदी सरकार की अगले पांच साल की कार्ययोजना और नीतियों पर प्रमुख रूप से चर्चा होने की बात कही जा रही है. केंद्र में नई सरकार के गठन के बाद पीएम मोदी ने विभिन्न मंत्रालयों के सचिवों और अन्य अधिकारियों को सरकार की कार्ययोजना को सही तरीके से जमीन पर उतारने को लेकर कड़े निर्देश दिए हैं. उम्मीद की जा रही है कि राष्ट्रपति के अभिभाषण में मोदी सरकार की इन्हीं नीतियों पर विस्तार से प्रकाश डाला जाएगा.

लोकसभा अध्यक्ष चुने जाने के बाद ओम बिड़ला ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू से मुलाकात की. कोविंद से मिलने बिड़ला राष्ट्रपति भवन गए और इसके बाद उन्होंने नायडू से उनके आवास पर मुलाकात की. अधिकारियों ने बताया कि ये दोनों शिष्टाचार मुलाकात थी. राष्ट्रपति कार्यालय ने कोविंद और बिड़ला की एक तस्वीर भी ट्वीट की. उपराष्ट्रपति के कार्यालय ने भी एक तस्वीर पोस्ट की. उपराष्ट्रपति ने ट्वीट किया, ‘‘ मुझे विश्वास है कि सार्वजनिक जीवन में लंबा अनुभव रखने वाले बिड़ला सर्वश्रेष्ठ संसदीय परिपाटी और परंपराओं को बरकरार रखते हुए संसदीय लोकतंत्र को देश में मजबूत करने के लिए कदम उठाएंगे.