Maha Shivratri 2020: आज पूरे देश में देवों के देव महादेव की पूजा करने का महापर्व महाशिवरात्रि की धूम है. मंदिरों में भोलेनाथ से आशीर्वाद लेने और दर्शन के लिए भीड़ उमड़ पड़ी है. काशी से लेकर उज्जैन तक के मंदिरों में भोलेनाथ का जयकारा लग रहा है. वहीं, कई राजनीतिक हस्तियों ने भी शिवरात्रि की बधाई दी है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से लेकर पीएम नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ, राहुल गांधी सहित देश के कई बड़े राजनेताओं ने देश को शुभकामनाएं दी हैं. Also Read - पीएम ने ट्वीट कर बताया,...तो यह मोदी को विवादों में घसीटने की कोई खुराफात लगती है

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने ट्वीट कर कहा- ‘महाशिवरात्रि के शुभ अवसर पर सभी देशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं. मेरी कामना है कि भगवान शिव का आशीर्वाद सभी के जीवन में सुख, शांति और समृद्धि लाए. Also Read - कोरोना संकट: PM मोदी ने ऑल पार्टी मीटिंग कहा- देश में बढ़ाया जा सकता है लॉकडाउन

पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने ट्वीट में कहा- ‘आप सभी को महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं. बाबा भोलेनाथ के आशीर्वाद से सभी देशवासियों के जीवन में सुख, शांति, समृद्धि और सौभाग्य आए. ऊँ नम: शिवाय!

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा- महाशिवरात्रि के पावन अवसर पर समस्त देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं. महादेव से भारत की निरंतर खुशहाली की प्रार्थना करता हूं. हर-हर महादेव

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा- त्याग, भक्ति और मुक्ति का अनुपम समन्वय, ‘माघ मेला’ का आज अंतिम स्नान है. कल्पवास के त्याग, श्रद्धा के समर्पण और संन्यास के संकल्प से दीप्त माघ मेला में आज, महाशिवरात्रि के पावन अवसर पर त्रिवेणी के पवित्र जल में स्नान का पुण्य लाभ अर्जित कर रहे श्रद्धालुओं को हार्दिक शुभकामनाएं.

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा- महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर सभी देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं.

पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने कहा- महाशिवरात्रि भाईचारे की सच्ची भावना के साथ मनाएं. भगवान शिव द्वारा प्रचारित उस विचारधारा का अनुसरण करने का आह्वान किया जो विभाजन और घृणा की सभी बुरी शक्तियों को नष्ट करने के लिए है, जो देश के सामाजिक ताने-बाने के लिए हानिकारक हैं. यह शुभ अवसर हम सभी के बीच प्यार, स्नेह, सौहार्द और भाईचारे के महान विचारों को प्रेरित करें.”

महाशिवरात्रि: भोलेनाथ के दर्शन को उमड़े श्रद्धालु, उज्जैन से लेकर काशी तक मंदिरों में भीड़

पुराणों के अनुसार आज ही के दिन भगवान शिव और माता पार्वती का विवाह हुआ था. इसलिए इस दिन को शिवरात्रि के बजाय महाशिवरात्रि के रूप में पूजा जाता है. शिव जी का दिन हो और उनके भक्त उनके द्वार ना पहुंचे यह असंभव है. महाशिवरात्री के पवित्र त्योहार पर देश भर से मंदिरों व शिवधामों पर पहुंच रहें भक्तों की उर्जा देखने लायक है. उज्जैन का महाकाल मंदिर हो या भी वाराणसी का काशी विश्वनाथ मंदिर. हर जगह भगवान शिव के भक्त सुबह-सुबह पहुंच कर उन्हें दूध और जल से नहला रहे हैं और अपनी भक्ति को भगवान शिव के लिए समर्पित कर रहे हैं. पूरे देश में शिव के भक्तों का सैलाब देखने को मिल रहा है.