नई दिल्ली। राष्ट्रपति चुनाव को लेकर सियासी सरगर्मियां तेज हो गई हैं. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह और एम. वेंकैया नायडू कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करने शुक्रवार सुबह को उनके आवास पर पहुंचे. इस दौरान बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद और मल्लिकार्जुन खड़गे भी मौजूद थे.

ये बैठक महज 30 मिनट ही चली. बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए गुलाम नबी आजाद ने कहा कि बीजेपी नेता राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए किसी नाम के साथ नहीं आए थे. इसके बदले उन्होंने हमसे ही राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए नाम मांगा.

उधर, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार पर चर्चा के लिए शुक्रवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के साथ बैठक करेंगे. बैठक से पहले शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि बीजेपी राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए अगर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के नाम पर राजी नहीं है तो फिर उद्धव ठाकरे राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए अमित शाह के सामने एम. एस. स्वामीनाथन का नाम रखेंगे.

बता दें कि राजनाथ और नायडू 17 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए पद के उम्मीदवार पर आम सहमति बनाने के लिए सोनिया गांधी के आवास पर पहुंचे थे. राजनाथ सिंह और वेंकैया नायडू बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह द्वारा गठित तीन सदस्यीय समिति का हिस्सा हैं.