इम्फाल : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वैज्ञानिकों से कहा कि वे ऐसा अनुसंधान करें, जिससे आम आम जनता को फायदा पहुंचे. कहा कि आर एंड डी को राष्ट्र के विकास के लिए अनुसंधान के रूप में फिर से परिभाषित करने का यही श्रेष्ठ समय है. प्रधानमंत्री यहां 105वीं भारतीय विज्ञान कांग्रेस के उद्घाटन सत्र को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि भारत की परंपरा मजबूत रही है. खोज और विज्ञान-प्रोद्यौगिकी के इस्तेमाल का लंबा इतिहास रहा है. उन्होंने वैज्ञानिक समुदाय से अपने अनुसंधान का विस्तार करने का अनुरोध कियाAlso Read - 'बप्पी लहरी की आवाज़ चली गई' कहकर लोगों ने फैला दी अफवाह, आग की तरह फैल गई खबर...फिर

पीटीआई के मुताबिक, भारतीय विज्ञान कांग्रेस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अनुसंधान के क्षेत्र में अग्रणी देशों के बीच अपने सही स्थान का फिर से दावा करने का यह सही समय है. मोदी ने कहा कि राष्ट्र की समृद्धि और विकास के लिए अहम प्रोद्यौगिकियों को भविष्य में लागू करने के लिए देश को तैयार रहना चाहिए. प्रोद्यौगिकी शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल एवं बैंकिंग सेवा की नागरिकों तक ज्यादा पहुंच हासिल करने में मदद देगी. कहा कि आज इस बात की जरूरत है कि अपनी वैज्ञानिक उपलब्धियों को समाज तक पहुंचाया जाए. इससे युवाओं का वैज्ञानिक मिजाज बनेगा. प्रधानमंत्री ने कहा कि हमें अपने संस्थान और प्रयोगशालाएं अपने बच्चों के लिए खोलने होंगे. मैं वैज्ञानिकों से अनुरोध करता हूं कि स्कूली बच्चों के साथ संवाद कायम करने के लिए वह कोई तंत्र विकसित करें. Also Read - West Bengal By Election 2021: तीन सीटों पर 30 सितंबर को डाले जाएंगे वोट, सार्वजनिक अवकाश घोषित

9वीं से 12वीं कक्षा के 100 छात्रों के साथ सालाना सौ घंटे बिताएं वैज्ञानिक
युवाओं में वैज्ञानिक चिंतन विकसित करने के लिए प्रधानमंत्री ने वैज्ञानिकों से ‘व्यक्तिगत अनुरोध’ किया कि वह कक्षा नौंवी से बारहवी कक्षा के 100 छात्रों के साथ सालाना 100 घंटे बिताएं और उनके साथ विज्ञान और प्रोद्यौगिकी पर चर्चा करें. उन्होंने 2022 तक 100 गीगावॉट क्षमता की स्थापित सौर ऊर्जा का लक्ष्य तय किया. मोदी ने कहा कि बाजार में फिलहाल उपलब्ध सोलर मॉड्यूल की क्षमता करीब17-18 फीसदी है. क्या हमारे वैज्ञानिक और किफायती सोलर मॉड्यूल विकसित करने की चुनौती स्वीकार करेंगे, जिसे समान लागत पर भारत में ही बनाया जा सके. Also Read - Hema Malini की मां थीं बेहद खूबसूरत, मरने से पहले कही थी ये बात मगर बेटी ने नहीं मानी...आज तक पछतावा- Pics