नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसदीय चुनावों में शानदार जीत पर बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना को फोन कर हार्दिक बधाई दी. उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि भारत और बांग्लादेश के बीच साझेदारी हसीना के दूरदर्शितापूर्ण नेतृत्व में लगातार आगे बढ़ती रहेगी. मोदी ने उनसे टेलीफोन पर बातचीत के दौरान भारत द्वारा बांग्लादेश को दी जाने वाली प्राथमिकता को दोहराया और बांग्लादेश को भारत की ‘पड़ोसी पहले’ की नीति का मुख्य स्तंभ बताया. हसीना के नेतृत्व वाली अवामी लीग ने लगातार तीसरी बार शानदार जीत हासिल की. अवामी लीग नीत महागठबंधन ने 300 सदस्यीय संसद में 288 सीटें जीतीं.

हसीना की जीत पर उन्हें बधाई देने वाले मोदी पहले नेता थे जिसके लिए हसीना ने उन्हें शुक्रिया कहा. विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, प्रधानमंत्री ने पड़ोसी होने के नाते, क्षेत्रीय विकास, सुरक्षा एवं सहयोग के लिए करीबी साझेदार होने के नाते और भारत की ‘पड़ोस पहले’ की नीति की धुरी होने के नाते बांग्लादेश के लिए नई दिल्ली की प्रतिबद्धता भी दोहराई. दोनों नेताओं की बातचीत को पूरी तरह गर्मजोशी भरी करार देते हुए विदेश मंत्रालय ने कहा कि इससे भारत और बांग्लादेश के बीच करीबी एवं परंपरागत मैत्री संबंध साफ जाहिर होते हैं.

पीएम ने सबसे पहले दी बधाई
मंत्रालय ने कहा कि भारत ने लोकतंत्र, विकास तथा बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान के दृष्टिकोण में भरोसा मजबूत करने के लिए बांग्लादेश की जनता को बधाई दी. विदेश मंत्रालय ने कहा, प्रधानमंत्री शेख हसीना ने सबसे पहले बधाई देने के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद कहा. साथ ही उन्होंने उस लगातार एवं उदार सहयोग के लिए भारत को शुक्रिया कहा जिससे बांग्लादेश के विकास में मदद मिली. उन्होंने, प्रधानमंत्री मोदी की इस बारे में प्रतिबद्धता जताने पर सराहना भी की.

पीएम मोदी ने सहयोग का आश्वासन दिया
ढाका में बांग्लादेशी प्रधानमंत्री के प्रेस सचिव अहसानुल करीम ने कहा कि बातचीत के दौरान, मोदी ने कहा कि हसीना की जीत उनके दमदार नेतृत्व में बांग्लादेश के शानदार विकास का प्रदर्शन है. अधिकारी ने कहा, प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें बांग्लादेश के विकास प्रयासों को भारत के निरंतर सहयोग का आश्वासन दिया.