पीएम नरेंद्र मोदी रविवार को यूपी के रायबरेली पहुंचे. यह कांग्रेस का गढ़ माना जाता है और यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी यहां से सांसद हैं. पीएम ने सबसे पहले मॉडर्न कोच फैक्ट्री का निरीक्षण किया. पीएम ने 1100 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया. इसके बाद एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने एनडीए सरकार में किए गए विकास कार्यों का उल्लेख किया और फिर यूपीए के 10 साल सहित कांग्रेस पर निशाना साधा. पीएम ने रक्षा सौदे से लेकर तेजस तक का जिक्र करते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार ने इसे हमेशा ही कमजोर करने का काम किया है. इस दौरान उन्होंने क्वात्रोची को ”मामा” और मिशेल को ”चाचा” कहकर कांग्रेस पर निशाना साधा.

पीएम ने कहा कि कांग्रेस उन शक्तियों के साथ खड़ी है जो हमारी सेना को मजबूत नहीं होने देना चाहती हैं. भाषण यहां दिया जाता है और तालियां पाकिस्तान में बजती हैं. उन्होंने कहा कि कुछ लोगों के लिए रक्षा मंत्रालय, रक्षामंत्री यहां तक की कोर्ट भी झूठा है. इस दौरान उन्होंने तुलसीदास के एक चौपाई का जिक्र करते हुए कहा कि सच को को श्रृंगार की जरूरत नहीं होती है. झूठ जितना भी बोलो उसमें जान नहीं होती है. उन्होंने कहा कि रक्षा सौदे में कांग्रेस का इतिहास क्वात्रोची मामा और मिशेल चाचा का रहा है. कांग्रेस ने इन्हें बचाने के लिए अपने वकील को कोर्ट तक भेज दिया. हमारे लिए देश से बड़ा कुछ नहीं है. हम दल से ज्यादा देश के बारे में सोचते हैं.

मोदी ने ये चौपाई पढ़ी
झूठइ लेना झूठइ देना। झूठइ भोजन झूठ चबेना।
बोलहिं मधुर बचन जिमि मोरा। खाइ महा अहि हृदय कठोरा॥

किसानों पर भी कांग्रेस को घेरा
किसानों के मुद्दे पर भी पीएम मोदी ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि कर्नाटक में कांग्रेस की सरकार है. लेकिन उन्होंने 6 महीने में किसानों के साथ न्या नहीं किया है. यूपीए के 10 साल के दौरान उन्होंने स्वामीनाथम कमेटी की रिपोर्ट को क्यों नहीं माना है. जबकि हमारी सरकार इसी कमेटी की रिपोर्ट के आधारा पर एमएसपी पर काम किया है. उन्होंने यूपीए सरकार में भी कई गई कर्ज माफी पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि दावे बड़े बड़े किए गए थे, लेकिन काम बहुत कम हुआ. किसानों को धोखा दिया गया.