चेन्नई: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ अपनी दूसरी अनौपचारिक शिखर वार्ता खत्म करने के बाद शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी के लिए रवाना हो गए. उन्होंने कहा कि यह वार्ता द्विपक्षीय संबंधों में बड़ी गति पैदा करेगी. प्रधानमंत्री ने हवाईअड्डे पर तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित, मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी, उपमुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम तथा भाजपा की राज्य इकाई के वरिष्ठ नेताओं से गर्मजोशी से विदायी ली. वह भारतीय वायु सेना के एक विमान से दिल्ली के लिए रवाना हुए.

 

इससे पहले, मोदी एक हेलीकॉप्टर से मामल्लापुरम तट पर कोवलम में स्थित फिशरमैन्स कोव सी साइड रिजॉर्ट से यहां पहुंचे थे. कोवलम से मामल्लापुरम के समीप तिरुविदन्तई में हेलीपैड तक की सड़कों पर दोनों ओर कतारबद्ध खड़े भाजपा समर्थकों ने ‘भारत माता की जय’ और ‘वंदे मातरम्’ के नारे लगाए तथा मोदी ने मुस्कुराते हुए हाथ हिलाकर उनका अभिवादन किया. आम जनता भी प्रधानमंत्री की झलक पाने के लिए उमड़ पड़ी थी. प्रधानमंत्री ने अपने टि्वटर हैंडल पर कहा कि उन्होंने और चीन के राष्ट्रपति ने द्विपक्षीय संबंधों में सुधार लाने पर रचनात्मक बातचीत की.

मामल्लापुरम के समीप हुई दूसरी अनौपचारिक बैठक
दोनों नेताओं के बीच दूसरी अनौपचारिक बैठक मामल्लापुरम के समीप हुई. मोदी ने कहा कि मैं हमारी दूसरी अनौपचारिक शिखर वार्ता के लिए भारत आने को लेकर राष्ट्रपति शी चिनफिंग का आभार व्यक्त करता हूं. चेन्नई कनेक्ट भारत-चीन संबंधों में बड़ी गति पैदा करेगा. यह हमारे देश और दुनिया के लोगों के लिए लाभदायक होगा.