PM Narendra Modi Speech: लोकसभा में प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव का जवाब देते हुए विपक्ष पर करारा हमला बोला. उन्होंने धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में भाग लेने वाले विपक्ष के नेताओं का नाम लेते हुए पहले तो उन्हें धन्यवाद दिया और फिर चुन-चुन कर उनके एक-एक बयान का जवाब दिया. पीएम मोदी ने कहा कि इस चर्चा के दौरान एक बात निकलकर आई कि सरकार इतनी तेजी से सभी काम क्यों कर रही है. इस पर पीएम में प्रसिद्ध कवि सर्वेश्वर दयाल सक्सेना की एक कविता का जिक्र करते हुए कहा कि अगर उनकी सरकार आपकी यानी कांग्रेस की रफ्तार से चलती तो आजादी के 70 सालों बाद कश्मीर से धारा-370 नहीं हटाया जा सकता. उन्होंने कहा कि अगर वह कांग्रेस की रफ्तार से चलते तो भारत-बांगलादेश सीमा विवाद को नहीं सुलझाया जा सकता. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार अगर पूर्ववर्तियों की रफ्तार से चलती हो आज शत्रु संपत्ति कानून नहीं लाया जा सकता.


पीएम ने कहा कि दरअसल विपक्ष पर एक ढर्रे पर चलने की आदत है. वह उस सोच से निकलना नहीं चाहती. उन्होंने कहा कि आपके लिए गांधी ट्रेलर हो सकते हैं लेकिन हमारे लिए जिंदगी हैं. पीएम ने कटाक्ष किया कि अगर आपकी ही राह पर चलते तो नाबालिग के रेप में फांसी की सजा का प्रावधान न हो पाता. अगर आपकी ही राह पर चलते तो राम जन्मभमि विवादों में रहती. पुराने तरीकों से धारा 370 को खत्म नहीं किया जा सकता था. आज राम मंदिर का मसला नहीं सुलझाया जा सकता था.