नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे. यह बैठक 27 अप्रैल की सुबह होगी . वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये एक बार प्रधानमंत्री मोदी सभी मुख्यमंत्रियों से कोविड संक्रमण के बाद उपजे हालात पर उनकी राय जानेंगे. माना जा रहा है कि एक बार राज्यों से फीडबैक के बाद ही केंद्र सरकार आगे की रणनीति तैयार करेगी. इससे पहले भी मोदी ने 11 अप्रैल को राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बैठक की थी, जिसके बाद 3 मई तक के लिए लॉकडाउन बढ़ाने का निर्णय लिया था. Also Read - कोरोना वायरस वैक्सीन बनाने में मदद करेगी गुजरात कोविड म्यूटेशन अध्ययन, जानिए क्या है एक्सपर्ट की राय 

गौरतलब है राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री मोदी की यह चौथी बैठक होगी. पहली बैठक 2 अप्रैल को हुई थी. हालांकि देश के कई इलाकों में 20 अप्रैल से सीमित कामकाज शुरू हो गया है. माना जा रहा है कि 27 अप्रैल को होने वाली बैठक में कुछ रियायत पर चर्चा हो. साथ ही बैठक में कोविड-19 से लड़ने पर केन्द्र और राज्यों की साझा रणनीति पर भी समीक्षा हो सकती है. Also Read - थूक के इस्‍तेमाल पर रोक से बिगड़ेगा गेंद-बल्‍ले का संतुलन, अनिल कुंबले का सुझाव, पिच में हो बदलाव

बता दें कि इससे पहले लॉकडाउन को बढ़ाने को लेकर प्रधानमंत्री राज्य सरकारों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मीटिंग कर चुके हैं. इसके बाद ही देश में लॉकडाउन के अवधि को बढ़ाया गया था. वहीं आज पीएम ने कैबिनेट की बैठक की. इसके बाद कई सारे अध्यादेश लाए गए साथ ही कोरोना के खिलाफ 15000 करोड़ रुपये की राहत पैकेज को मंजूरी भी दे दी गई. Also Read - देश का नाम भारत करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार, CJI बोले- ये हम नहीं कर सकते