नई दिल्ली: पीएम नरेन्द्र मोदी 72वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लालकिले की प्राचीर से अपना भाषण खत्म करने के बाद जब वहां मौजूद बच्चों के बीच पहुंचे तो बच्चों में गजब का उत्साह देखने को मिला. कुछ देर तक वह जश्न-ए-आजादी को लेकर उत्साहित बच्चों के बीच घिरे रहे. लाल किले के मुख्य आयोजन स्थल पर हर बार की तरह इस साल भी बच्चों ने केसरिया, सफेद और हरे रंगे की पोशाक पहन रखी थी जिससे वहां का पूरा माहौल तिरंगामय हो गया था.

वहां नीले रंग के कपड़े पहने बच्चे भी मौजूद थे जो जश्न में नया रंग भर रहे थे. इस समारोह में दिव्यांग बच्चों ने भी शिरकत की और आजादी के जश्न में सबके साथ खुशियां बांटीं.

Independence Day: स्वतंत्रता दिवस पर देश ने पहली बार देखा पीएम मोदी का कवि-रूप

पीएम लाल किले की प्राचीर से अपने 82 मिनट के भाषण के बाद बच्चों के बीच पहुंचे. उनको अपने बीच पाकर बच्चों का उत्साह देखते ही बन रहा था. बच्चे उनसे मिलने के लिए बड़ी संख्या में आगे बढ़े. प्रधानमंत्री कुछ देर तक बच्चों के बीच खड़े रहे. इससे पहले, प्रधानमंत्री के संबोधन के दौरान भी बच्चों ने जम कर तालियां बजाईं.