नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में रूसी टेनिस स्टार डेनिल मेदवेदेव की सरलता की प्रशंसा की. उन्होंने कहा कि “यदि आपने डेनिल मेदवेदेव का भाषण नहीं सुना है, तो मैं आप सभी से विशेष रूप से युवाओं से कहूंगा कि उनका भाषण जरूर सुनें. इसमें हर वर्ग और हर उम्र के लोगों के सीखने के लिए बहुत कुछ है.” उन्होंने कहा, “इस बार यूएस ओपन में विजेता के जितने चर्चे थे, उतने ही चर्चे रनर अप डेनिल मेदवेदेव के थे. मेदवेदेव (23) की सरलता और परिपक्वता हर किसी को प्रभावित करने वाली थी. मैं बहुत प्रभावित हुआ.” उन्होंने कहा कि मेदवेदेव ने हार के बाद भी नडाल की तारीफ की जो खेल भावना का जीता-जागता सबूत हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि इस युवा खिलाड़ी ने अपने खेल और इसके बाद अपने शब्दों से दुनिया भर के लोगों का दिल जीत लिया. Also Read - कांग्रेस का मोदी सरकार से सवाल, कितने करोड़ लोगों को कोरोना का मुफ्त टीका मिलेगा और किसको नहीं मिलेगा?

Also Read - PM Modi Announced Startup Fund: देश में स्टार्ट-अप को मिलेगा बढ़ावा, PM मोदी ने की 1,000 करोड़ रुपये के फंड की घोषणा

सोमवार को चेन्नई जाएंगे पीएम मोदी, IIT मद्रास के दीक्षांत समारोह में होंगे शामिल Also Read - COVID-19 Vaccination Drive: वैक्सीन का इंतजार हुआ खत्म, दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के लिए देश तैयार

daniil medvedev

यूएएस ओपन के खिताबी मुकाबले में राफेल नडाल से हारे मेदवेदेव

आपको बता दें कि यूएएस ओपन के खिताबी मुकाबले में मेदवेदेव को राफेल नडाल ने हारा दिया था. हार के बाद अपने भाषण में उन्होंने कहा था कि, सबसे पहले मैं राफेल नडाल को मुबारकबाद देना चाहूंगा. उन्होंने 19 ग्रैंड स्लैम जीते हैं. यह शानदार काम है. आपके खिलाफ खेलना काफी मुश्किल है. मेदवेदेव ने कहा कि जब मैं बड़ी स्क्रीन की ओर देख रहा था, तो वह स्क्रीन पर नडाल के जीते सभी ग्रैडस्लैम दिखा रहे थे। मैं सोच रहा था कि अगर मैं जीत गया तो वह स्क्रीन पर क्या दिखाएंगे.

चार घंटे 49 मिनट तक चला था कड़ा मुकाबला

स्पेनिश स्टार राफेल नडाल और रूस के टेनिस खिलाड़ी मेदवेदेव बीच चार घंटे 49 मिनट तक कड़ा मुकाबला हुआ था, जिसके बाद नडाल ने यूएस ओपन का खिताब अपने नाम किया. नडाल ने मेदवेदेव को 7-5, 6-3, 5-7, 4-6, 6-4 से शिकस्त देकर अपने करियर का 19वां ग्रैंड स्लैम खिताब अपने नाम किया था.