नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को सशस्त्र बल झंडा दिवस के मौके पर जवानों और उनके परिजनों के साहस को सलाम किया. प्रधानमंत्री ने कहा, “इस सशस्त्र बल झंडा दिवस के मौके पर हम अपने बलों और उनके परिजनों के अदम्य साहस को सलाम करते हैं. मैं आप सभी से आग्रह करता हूं कि हमारी बलों के कल्याण में योगदान दें.”

राहुल गांधी का केंद्र सरकार पर हमला, कहा- पूरे देश में महिलाओं के खिलाफ बढ़ी हिंसा

एक छोटी लड़की ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जैकेट पर एक झंडा लगाया और उसके बाद उन्होंने सशस्त्र बलों के कल्याण के लिए लड़की द्वारा पकड़े गए एक छोटे ‘दान डब्बे’ में अपनी ओर से योगदान दिया. इस मौके पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, “हम इस देश के सम्मान के लिए लड़ने वाले सशस्त्र बलों के प्रति अपना आभार व्यक्त करें. आप ऑनलाइन लेनदेन के माध्यम से या चेक लिखकर सशस्त्र बल झंडा दिवस कोष में योगदान कर सकते हैं. सशस्त्र बल झंडा दिवस कोष में योगदान को आयकर से मुक्त रखा गया है.”

उन्नाव रेप केसः दिल्ली में गुस्साई महिला ने अपनी बेटी को जलाने की कोशिश की

सात दिसंबर, 1949 के बाद से प्रति वर्ष इस दिन देश के शहीद जवानों और सीमा की सुरक्षा में लगे सैनिकों को सम्मान देने के लिए सश बल झंडा दिवस मनाया जाता है.