Also Read - 'महाराष्ट्र में अगले 2-3 माह में सरकार बना लेगी बीजेपी, तैयारी हो गई है'

Also Read - लव जिहाद पर बोलीं TMC सांसद नुसरत जहां- प्यार लोगों का निजी मामला, इसपर हुक्म नहीं चलाया जा सकता

नई दिल्ली, 3 मार्च | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को विपक्ष से सहयोग मांगा और कहा कि उनकी सरकार यह नहीं कहती कि सत्ता में होने के नाते वह सबकुछ जानती है। मोदी ने राज्यसभा में कहा, “चूंकि हम सत्ता में बैठे हैं, इसीलिए हम सब कुछ जानते हैं, ऐसा हम नहीं सोचते। सभी को साथ मिलकर काम करना होगा।” राष्ट्रपति के अभिभाषण पर राज्यसभा में धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में हिस्सा लेते हुए उन्होंने कहा, “लोकतंत्र में धमकियां नहीं चलती हैं। यह देश आपातकाल के दौरान भी नहीं झुका था।” यह भी पढ़ें–प्रधानमंत्री ने संसद की कैंटीन में किया दोपहर का भोजन Also Read - तेजस्वी यादव का बड़ा ऐलान- बिहार की जनता और बर्दाश्त नहीं करेगी, हम सड़कों पर उतरेंगे

कांग्रेस ने पिछले दिनों कई बार दावा किया कि राजग (राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन) सरकार द्वारा चलाई जा रही ज्यादातर योजनाएं संप्रग (संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन) सरकार की हैं और यह सरकार उनके नाम बदलकर उन्हें लागू कर रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दावे पर भी कांग्रेस को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा, “ऐसा कहा जा रहा है कि योजनाएं पुरानी हैं। इन योजनाओं में कुछ भी नया नहीं है। योजनाएं पुरानी हों अथवा नई यह मुद्दा नहीं है। मुद्दा यह है कि हमारी समस्याएं पुरानी हैं। हमें इन समस्याओं का समाधान ढूंढ़ना चाहिए।”