बालासोर (ओडिशा): केन्द्रीय मंत्री अमित शाह ने शनिवार को कांग्रेस पर आदिवासियों का वोटबैंक के रूप में इस्तेमाल करने और उनके कल्याण के लिये “कुछ नहीं करने” का आरोप लगाया और कहा कि मोदी सरकार ने विकास योजनाओं के जरिये उनका (आदिवासियों का) जीवन बदल दिया.

शाह ने यहां ‘आदि महोत्सव’ का शुभारंभ करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक “भाई” की तरह मजबूती से आदिवासी आबादी के पीछे खड़े हैं और यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि उन्हें सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिले.”

उन्होंने कहा, “स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद के 70 वर्षों में कांग्रेस ने आदिवासियों का वोटबैंक के रूप में इस्तेमाल किया. पार्टी ने आदिवासियों के कल्याण के लिये कुछ नहीं किया. भाजपा जहां भी सत्ता में आई, उसने आदिवासियों के लिये विकास से जुड़ी योजनाओं की झड़ी लगा दी.”

गृह मंत्री ने आदिवासी नेता बिरसा मुंडा को याद करते हुए कहा कि देश आदिवासियों को उनका अधिकार दिलाने के लिए अंग्रेजों के खिलाफ मुंडा की लड़ाई को नहीं भूल सकता. उन्होंने वनों और पर्यावरण के संरक्षण में योगदान के लिए आदिवासियों की प्रशंसा भी की.

(इनपुट भाषा)