नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने आज ‘मन की बात (Mann Ki Baat)’ में कोरोना से लेकर लद्दाख (Ladakh) मसले पर बात की. लद्दाख में चीनी सेना के साथ भारतीय सेना की झड़प में शहीद हुए बीस जवानों की शहादत को सलाम करते हुए पीएम मोदी ने बिना चीन का नाम लिए चीन पर भी निशाना साधा. मन की बात में उन्होंने कहा- ‘भारत की तरफ आंख उठाकर देखने वालों को करारा जवाब मिला है. अगर भारत दोस्ती निभाना जानता है तो आंख में आंख डालकर उचित जवाब देना भी जानता है. भारत के लिए शहीद होने वाले 20 जवानों ने दिखा दिया है कि वह मां धरती पर कभी आंच नहीं आने देंगे.’ इसके साथ ही पीएम मोदी ने कांग्रेस पर भी निशाना साधा. Also Read - देश में साइबर क्राइम में 200% इजाफा, PMO ने कहा- चीन को जिम्मेदार ठहराने के सबूत नहीं

कोरोना वायरस पर बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा- ‘लोग अक्सर बोलते हैं कि ये साल कब बीतेगा. हर तरफ लोग यही बात करते हैं कि आखिर यह साल कब बीतेगा. सब कह रहे हैं कि ये साल अच्छा नहीं है, शुभ नहीं है. हर कोई चाहता है कि, ये साल जल्दी से जल्दी बीत जाए. देश ने इस साल कई संकट देखे. पहले कोरोना, फिर अम्फान, फिर निसर्ग और फिर टिट्डी दल का हमला और फिर भूकंप के झटके. इसके साथ पड़ोसी देशों के साथ तनातनी. लेकिन, साल को इस तरह से खराब कहना गलत नहीं है.’ Also Read - विदेश सचिव बोले- भारत कूटनीतिक और सैन्य स्तर के माध्यमों से कर रहा है चीन के साथ बातचीत

उन्होंने आगे कहा- ‘ मुश्किलें और संकट आते हैं, लेकिन आपदाओं की वजह से इस तरह से साल को खराब कहना बिल्कुल ठीक नहीं है. आपदाओं की वजह से यह सोच लेना कि पूरा साल ही ठीक नहीं है. एक साल में अगर एक चुनौती आती है या 50 चुनौती आ जाएं, उससे साल खराब नहीं होता.’

इसके साथ ही एक बार फिर पीएम मोदी ने देशवासियों से आत्मनिर्भर बनने की अपील की और साथ ही सुरक्षित रहने की बात भी कही. उन्होंने कहा- ‘अनलॉक का उद्देश्य कोरोना को हराना और अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाना है.’ इसके साथ ही पीएम मोदी ने देशवासियों से मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करने की अपील की.