इंदौर. दाऊदी बोहरा समुदाय के धर्मगुरु सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन से भेंट के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को यहां पहुंचेंगे. प्रधानमंत्री के दौरे के लिये सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये हैं. अधिकारियों ने बताया कि प्रधानमंत्री अपने संक्षिप्त कार्यक्रम के दौरान यहां सैफी नगर की मस्जिद में सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन से मिलेंगे. इस मस्जिद में दाऊदी बोहरा समुदाय के धर्मगुरु के प्रवचन का नौ दिवसीय कार्यक्रम बुधवार से शुरू हुआ है. समुदाय के दुनियाभर में बसे हजारों लोग इस धार्मिक कार्यक्रम के लिये खास तौर पर इंदौर पहुंचे हैं.

अधिकारियों के मुताबिक सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन से भेंट के बाद प्रधानमंत्री दाऊदी बोहरा समुदाय के लोगों को सम्बोधित भी करेंगे. इस दौरान लोकसभा अध्यक्ष एवं स्थानीय सांसद सुमित्रा महाजन, मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और सूबे के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद रहेंगे. उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री के दौरे में पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिये अलग-अलग स्थानों पर पुलिस के 4,000 कर्मचारियों की तैनाती की जायेगी। कई चक्रों की सुरक्षा व्यवस्था के दौरान विशेष कैमरों से पल-पल की गतिविधि पर पैनी नजर रखी जायेगी.

चुनाव को लेकर लग रहे हैं कयास
इस बीच, प्रधानमंत्री के दौरे पर राजनीतिक विश्लेषकों की निगाहें भी टिक गयी हैं क्योंकि मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनावों की उल्टी गिनती शुरू हो गयी है. साल के आखिर में होने वाले इन चुनावों से पहले मोदी के दौरे को सियासी तौर पर अहम माना जा रहा है. भाजपा मध्यप्रदेश में लगातार चौथी बार सरकार बनाने की चुनौती का सामना कर रही है, जबकि कांग्रेस राज्य की सत्ता से पिछले 15 साल का वनवास खत्म करने की कोशिश में जुटी है.

2.5 लाख है आबादी
मोटे अनुमान के मुताबिक प्रदेश में दाऊदी बोहरा समुदाय की आबादी 2.5 लाख के आसपास है. समुदाय के ज्यादातर लोग व्यापार-व्यवसाय से जुड़े हैं. इंदौर के अलावा उज्जैन और बुरहानपुर में दाऊदी बोहरा समुदाय के लोग बड़ी संख्या में बसे हैं.