नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को भुवनेश्वर के लिंगराज मंदिर पहुंचे. मंदिर में पीएम मोदी को देखने के लिए खूब भीड़ उमड़ी थी. मंदिर पहुंचते ही पीएम मोदी ने कार से बाहर निकल कर वहां मौजूद लोगों का अभिवादन स्वीकार किया.

पीएम मोदी ने यहां लिंगराज के जलाभिषेक करने के साथ ही मंदिर में मौजूद सभी ज्योतिर्लिंगों का दर्शन किया. पीएम मोदी के साथ केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी लिंगराज मंदिर पहुंचे. लिंगराज मंदिर में सबसे पहले आने वाले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू थे.

गौरतलब है कि भुवनेश्वर में बीजेपी की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक आयोजित की गई है. इस बैठक का आज दूसरा दिन है यानी बैठक का आज समापन होना है. बैठक के दूसरे दिन पीएम मोदी कार्यकारिणी को संबोधित करेंगे.

मंदिर के दर्शन से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने राजभवन में स्वतंत्रता सेनानियों के परिजनों से मुलाकात की और उन्हें सम्मानित किया. कार्यक्रम में आजादी की लड़ाई के दौरान ओडिशा विद्रोह से जुड़े परिवारों को सम्मानित किया गया. ओडिशा के खोर्दा जिले में अंग्रेजों के खिलाफ पहला सशस्त्र विद्रोह हुआ था.

कार्यक्रम के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ने का बीड़ा जनजाति के लोगों ने उठाया था. उनका योगदान अप्रतिम है. पीएम मोदी ने शनिवार को एयरपोर्ट से राजभवन तक का करीब आठ किलोमीटर का रोड शो भी किया था.