नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने वाराणसी की गलियों में रिक्शा चलाने वाले एक युवक को खुश होने का बहुत ही बड़ा कारण दे दिया है. दरअसल, मंगल केवट वह युवक हैं, जिन्होंने अपनी बेटी की शादी का कार्ड प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजा था. ऐसे में पीएम मोदी ने भी उनकी खुशियों को दोगुना करते हुए उनके भेजे कार्ड पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्हें खत भेजा है. वाराणसी के सांसद और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगल केवट की बेटी की शादी की शुभकामनाएं देते हुए उनकी बेटी की शादी पर आशीर्वाद दिया है. इसके साथ ही नव दंपति के लिए मंगल कामना की है. Also Read - 'कोरोना वायरस को जैविक हथियार बनाकर युद्ध लड़ना चाहता था चीन, 2015 में किया था टेस्ट'

आपको बता दें कि मंगल केवट ने कुछ दिनों पहले ही अपनी बेटी की शादी में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रण पत्र भेजा था. हालांकि, मंगल केवट को लगा था कि उन्होंने भले ही अपनी तरफ से पीएम मोदी को आमंत्रण पत्र भेज दिया है, लेकिन पीएम मोदी के हाथ शायद ही वह पत्र लगे या वह शायद ही इस शादी में शामिल हों या इस पर प्रतिक्रिया दें, लेकिन शादी के कुछ दिनों पहले ही मंगल केवट के घर एक पत्र आया, जिसे देखते ही उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा. Also Read - कोरोना टीके पर जीएसटी हटाने से इनकार, वित्त मंत्री बोलीं- ऐसा करने से महंगी होगी दवा

दरअसल, मंगल केवट को यह पत्र पीएम मोदी ने भेजा था, जिसमें उन्होंने मंगल केवट की बेटी को शुभकामनाएं दी थीं. इसके बाद मंगल केवट की बेटी की शादी में हर तरफ पीएम मोदी और उनके भेजे पत्र की चर्चा रही. बता दें कि मंगल केवट गंगा किनारे के डोमरी गांव के रहने वाले हैं और प्रधानमंत्री मोदी ने जयपुरा और डोमरी गांव (Domri Village) को गोद लिया हुआ है. ऐसे में मंगल ने अपने गांव और इस देश के मुखिया को अपनी बेटी की शादी में बुलाने के लिए आमंत्रण पत्र भेजा, जिस पर पीएम मोदी ने उन्हें पत्र लिखते हुए शुभकामनाएं भी दीं.