प्रधानमंत्री बनने के बाद अपनी विदेश यात्राओं को लेकर चर्चा में रहने वाले नरेंद्र मोदी इस साल 2015 से कम दौरे करेंगे। भारतीय जनता पार्टी की ओर से मिल रही जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री इस साल देश की जनता को किये हुए वादे पूरा करने की कोशिश करेंगे।

आपको बता दें की 2015 में मोदी की विदेश यात्रा को लेकर विपक्ष ने उनपर निशाना साधा था। आम लोग भी प्रधानमंत्री के विदेश यात्रा पर चर्चा कर रहे थे। इस साल भी वह कुछ देशो का दौरा करेंगे।

यह भी पढ़े: नवाज शरीफ ने कहा की, भारत से दुश्मनी भुलाकर दोस्ती करने का सही समय आ गया

आइये देखते है इस साल में मोदी की प्रस्तावित यात्राएं

अमेरिका:
प्रधानमंत्री मोदी मार्च के अंत में एक बार फिर अमेरिका की यात्रा करेंगे। दरअसल 31 मार्च और 1 अप्रैल को अमेरिका में नेशनल सिक्योरिटी समिट होना है। बताया जा रहा है की इस यात्रा के दौरान मोदी की ओबामा और शरीफ से मुलाक़ात हो सकती है।

जापान यात्रा:

भारत और जापान के बीच द्विपक्षीय रिश्तो को मजबूत करने के लिए होने वाले जापान-भारत वार्षिक सम्मेलन नई दिल्ली और टोक्यो में होंगे। जापान में आयोजित होने वाले सम्मेलन में मोदी शामिल हो सकते हैं।

पाकिस्तान यात्रा:

भारत का पडोसी मुल्क पाकिस्तान इस बार सार्क सम्मलेन की मेज़बानी करेगा। यह सम्मलेन सितंबर के महीने में होगा। इस दौरान वह दक्षिण एशिया के अन्य नेताओं से भी मुलाकात कर सकते हैं।

आसियान शिखर सम्मेलन:
इस साल नवम्बर में लाओस में आसियान शिखर सम्मेलन का आयोजन होगा। प्रधानमंत्री इस सम्मलेन में शिरकत करने के लिए लाओस जायेंगे

चीन यात्रा:
मोदीजी इस साल जी 20 शिखर सम्मेलन के लिए चीन की यात्रा करेंगे। चीन 2016 में जी 20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा। जी-20 समिट नवंबर में होने की उम्मीद है।