बलिया: पीएम मोदी की पहल के बाद मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविन्द जगन्नाथ अपनी पुश्तैनी जड़ें तलाशने के लिए अगले महीने बलिया पहुंचेंगे. इस बाबत जानकारी भारत में मॉरीशस के उच्चायुक्त जगदीश्वर गोवर्धन जगन्नाथ ने कल शाम बलिया पहुंचने पर दी. उन्होंने संवाददाताओं को बताया कि उनके देश के प्रधानमंत्री प्रविन्द जगन्नाथ का बलिया के रसड़ा इलाके से पुश्तैनी रिश्ता है और वह अपने पूर्वजों की मिट्टी को नमन करने के लिए आगामी जनवरी में वाराणसी में आयोजित होने वाले प्रवासी भारतीय दिवस में शिरकत करने के बाद बलिया पहुंचेंगे.

महाराष्ट्र सरकार ने हाईकोर्ट में कहा- गिराया जाएगा नीरव मोदी का अलीबाग स्थित अवैध बंगला

पूर्वजों के गांव का अभी नहीं लगा पता
मॉरीशस के उच्चायुक्त गोवर्धन ने बताया कि प्रविन्द जगन्नाथ के पूर्वज का नाम विदेशी था उन्होंने बताया कि वो अपनी पत्नी बतसिया देवी के साथ 26 मार्च 1873 को गिरमिटिया मजदूर के रूप में कोलकाता से जलमार्ग के रास्ते मॉरीशस गए थे. विदेशी की चौथी पीढ़ी के अनिरुद्ध जगन्नाथ राष्ट्रपति तथा प्रधानमंत्री रहे. अनिरुद्ध वर्तमान प्रधानमंत्री प्रविन्द के पिता हैं. उन्होंने बताया कि प्रविन्द के पूर्वजों की तलाश की पहल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी. हालांकि उनके पूर्वजों का गांव कौन सा था, यह अभी पता नहीं लग सका है. उन्होंने जिला प्रशासन तथा रसड़ा क्षेत्र के लोगों से प्रविन्द के बाकी पुरखों तथा उनके गांव की तलाश में सहयोग का अनुरोध किया है. (इनपुट एजेंसी)

कनाडा में Huawei Technologies की शीर्ष अधिकारी गिरफ्तार, चीन ने कहा तत्काल रिहा करें