Jharkhand Coronavirus News: लकड़ी चोरी के आरोप में केंद्रीय कारागार (Dumka Central Jail) में बंद एक कैदी की कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण से मौत हो गई. डीएमसीएच के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. रवींद्र कुमार ने बताया कि संक्रमण की वजह से बंदी की मौत हुई है. संक्रमित का पोस्टमार्टम कराने का प्रावधान नहीं है, लेकिन बंदी होने के नाते मेडिकल बोर्ड के तीन सदस्यीय दल ने पोस्टमार्टम किया. इस बीच दुमका के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. अनंत कुमार झा ने बताया कि सेंट्रल जेल के अधीक्षक ने बताया है कि जेल में प्रवेश के समय संतोष मेहारिया की जांच करवाई गई थी जिसमें वह निगेटिव पाया गया था, Also Read - Corona Warriors: 50 साल की नर्स मुमताज बेगम किडनी की मरीज, हुआ था कोरोना, ठीक हो फिर काम पर लौटीं...

उन्होंने बताया कि भर्ती के समय बंदी में संक्रमण का कोई लक्षण नहीं दिख रहा था जिस कारण उसे कोविड अस्पताल में भर्ती करने के बजाय डीएमसीएच के कैदी वार्ड में रखा गया था, लेकिन मौत के बाद जांच की गई तो वह संक्रमित पाया गया. मृतक के भाई अजय मेहरिया ने बताया कि संतोष पहले से मुधमेह व रक्तचाप की बीमारी से ग्रसित था. Also Read - बिहार चुनाव पर संजय राउत का सवाल, क्या अब कोरोना वायरस की महमारी समाप्त हो गई?

बुधवार को तबीयत खराब होने के बाद जेल प्रशासन ने इलाज के लिए उसे मेडिकल कॉलेज के कैदी वार्ड में भर्ती कराया. शुक्रवार सुबह करीब दो बजे उसकी हालत ज्यादा खराब हो गई और सुबह करीब तीन बजे उनकी मौत हो गई. उन्होंने जेल प्रशासन पर भी मरीज को समुचित खाना नहीं देने का आरोप लगाया. सुबह परिजनों की नाराजगी की खबर सुनकर नगर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और परिजनों की बात सुनी. दंडाधिकारी विनय मनीष लाकड़ा की मौजूदगी में परिजनों का बयान भी दर्ज किया गया. Also Read - Covid 19 Update: देश में संक्रमितों की संख्या पहुंची 58 लाख के पार, 92 हजार से अधिक लोगों की मौत

(इनपुट: भाषा)