लखनऊ. कांग्रेस की नवनियुक्त महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश की पार्टी प्रभारी प्रियंका गांधी अपने भाई कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ 11 फरवरी को चार दिवसीय दौरे पर लखनऊ आएंगी. कांग्रेस के आधिकारिक सूत्रों ने गुरुवार के बताया कि राहुल और प्रियंका 11 फरवरी को लखनऊ आएंगे. उनके साथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश के पार्टी प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया भी होंगे.

उन्होंने बताया कि प्रियंका 11 से 14 फरवरी तक लखनऊ में रहेंगी. वह प्रदेश की सभी 80 लोकसभा सीटों पर संगठन की स्थिति की समीक्षा करेंगी. गौरतलब है कि प्रियंका 23 जनवरी को पार्टी की महासचिव बनने के बाद पहली बार उत्तर प्रदेश दौरे पर आ रही हैं. उनके अलावा पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को पश्चिमी उत्तर प्रदेश का प्रभार सौंपा गया है. वह भी नया पदभार संभालने के बाद पहली बार प्रदेश पहुंच रहे हैं.

महाराष्ट्र में भी कर सकती हैं रैलियां
दूसरी तरफ बताया जा रहा है कि प्रियंका गांधी वाड्रा की महाराष्ट्र में भी कम से कम दो-दो रैलियां कराने की योजना है. पूर्व केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने मंगलवार को कहा कि राहुल और प्रियंका की रैलियों का कार्यक्रम उनकी मंजूरी मिलने के बाद तय किया जाएगा. शिंदे महाराष्ट्र में कांग्रेस प्रचार समिति के प्रभारी हैं. उन्होंने कहा कि हरेक मंडल के समन्वयकों से प्रचार के लिए नेताओं के नामों को अंतिम रूप देने को कहा गया है. महाराष्ट्र में 48 लोकसभा सीटें हैं.

राहुल के कमरे में प्रियंका
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पार्टी मुख्यालय में अपने भाई और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के कमरे के बगल वाले कक्ष में बैठ रही हैं. हाल ही में सक्रिय राजनीति में कदम रखने वाली प्रियंका ने अभी आधिकारिक रूप से पदभार नहीं संभाला है. हालांकि ऐसी खबरें हैं कि विदेश से लौटने के बाद वह उत्तर प्रदेश में पार्टी की गतविधियों एवं रणनीति को लेकर लगातार बैठकें कर रही हैं. पार्टी सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस मुख्यालय में अध्यक्ष के बगल वाला वही कमरा प्रियंका को दिया गया जहां राहुल बतौर पार्टी उपाध्यक्ष बैठा करते थे.