वाराणसीः कांग्रेस महसचिव प्रियंका गांधी वाड्रा आज सोनभद्र नरंसहार पीड़ितों से मिलने के लिए घोरावल कोतवाली क्षेत्र के उम्भा गांव जा रही हैं. वहां वह इस नरसंहार के पीड़ितों से प्राथमिक विद्यालय परिसर में मुलाकात करेंगी. प्रियंका वाराणसी एयरपोर्ट पर पहुंच गई हैं. कांग्रेस कार्यालय से जारी कार्यक्रम के अनुसार वह वाराणसी एयरपोर्ट से चलने के बाद दोपहर करीब 1.30 बजे तक उम्भा पहुंचेंगी और नरसंहार के पीड़ितों से मिलेंगी.

प्रियंका के आने को लेकर वाराणसी के साथ ही सोनभद्र का प्रशासनिक अमला पूरी तरह से मुस्तैद हो गया है. वह लगातार शासन के संपर्क में है. वाराणसी, सोनभद्र, मिर्जापुर व भदोही के साथ ही पूरे पूर्वांचल के कांग्रेसजन मुस्तैद हो गए हैं.

पीड़ित ग्रामीणों से मिलने में किसी तरह की दिक्कत न हो इसके लिए कांग्रेसियों ने पूरी ताकत झोंक दी है. वहीं, इस दौरान किसी तरह की कोई बात न हो इसलिए पुलिस-प्रशासन के लोग भी लगे हुए हैं. सोमवार को एसपीजी के साथ ही पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने भी गांव का दौरा किया और कार्यक्रम स्थल को भी देखा था.

गौरतलब है कि 17 जुलाई को नरसंहार में 10 लोगों की हत्या कर दी गई थी. घटना के तीसरे दिन 19 जुलाई को वाड्रा को नरसंहार-स्थल जाने से पूर्व मिर्जापुर में ही रोक दिया गया था. उन्हें चुनार स्थित अतिथि-गृह में रखा गया था जहां उन्होंने धरना शुरू कर दिया था. दूसरे दिन वह यहीं चार नरसंहार-पीड़ितों से मिलकर लौट गई थीं. उनके ताजा कार्यक्रम को देखते हुए प्रशासन खासा मुस्तैद है. कई थानों की पुलिस फोर्स लगाई गई है. सुरक्षा व्यवस्था का मोर्चा एसपीजी ने संभाल रखा है. कांग्रेस सोनभद्र नरसंहार के मुद्दे को राष्ट्रीय स्तर पर ज्वलंत बनाए रखना चाहती है, ताकि सूबे की योगी सरकार को कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर घेरा जा सके.

(इनपुट-एजेंसी)