नई दिल्ली: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Singh) ने को विभिन्न धार्मिक संस्थाओं को पत्र लिखकर उनसे कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में मदद की अपील की. पार्टी की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक, प्रियंका ने कई मठों, डेरों, मंदिरों, मस्जिदों, गुरुद्वारों और गिरजाघरों से जुड़े प्रमुख लोगों को पत्र लिखा है. Also Read - घर में रहकर इस तरह दिल बहला रही हैं अलाया एफ, शेयर किया जबरदस्त डांस वीडियो

इस पत्र में प्रियंका गांधी ने कहा कि धार्मिक संस्थाएं कोरोना वायरस (Corona Virus) के खिलाफ प्रयासों में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मदद ले सकती हैं. उन्होंने कहा, ‘ हमारा देश कोरोना वायरस महामारी के भयानक संकट से गुजर रहा है. देश के कोने-कोने से लोग अपने घरों को भूखे-प्यासे लौट रहे हैं. लोगों की नौकरियों छूट रहीं हैं. मजदूरों के काम बंद हो गए हैं. ठेले खोमचे वालों की रोजी ठप्प हो गयी है. ‘ Also Read - कलाकार है शाहरुख खान की पत्नी गौरी, विश्वास नहीं होता तो देखिए ये वीडियो

प्रियंका ने कहा, ‘यदि आपको जनसेवा के कार्यों में स्वयंसेवियों की जरूरत है तो आप हमारी जिला टीम से संपर्क कर सकते हैं. कोरोना वायरस आपदा में राहत व बचाव कार्यों से जुड़े अन्य कामों में भी ये स्वयंसेवी आपके साथ सहयोग को तत्पर रहेंगे.’ प्रियंका ने कहा,” मुझे उम्मीद नहीं, विश्वास है कि इस लड़ाई में हम सब एकजुट होकर एक दूसरे की मदद करेंगे और कोरोना वायरस महामारी से भारतवासियों की रक्षा करने का हर एक प्रयास करेंगे.” Also Read - Sachin Pilot News: अशोक गहलोत के साथ काम नहीं करना चाहते सचिन पायलट, बहुमत साबित करने की दे चुके हैं चुनौती

बता दें कि आज कोरोना वायरस (Corona Virus) को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने भी आज राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वीडियो कांफ्रेंस के जरिए बातचीत कर सभी सम्प्रदायों के धर्मगुरुओं के साथ मीटिंग करने को कहा है. पीएम ने कोरोना को सभी धर्मों पर हमला करने वाला बताया है. पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस ने हमारी आस्था, हमारे पंथ, हमारी विचारधारा पर, हमारी परंपरा, हमारे विश्वास पर हमला बोला है, इसलिए हमें अपनी आस्था, हमारे पंथ, हमारी विचारधारा को बचाने के लिए सबसे पहले कोरोना वायरस को ख़त्म करना पड़ेगा, इसलिए आज आवश्यकता है कि सभी मत, पंथ, विचारधारा के लोग कोरोना महामारी को एकजुट होकर पराजित करें.