कानपुर: शहर के मोहम्मद अली पार्क में नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर चल रहे महिलाओं के धरना प्रदर्शन के सिलसिले में अपर सिटी मजिस्ट्रेट ने 66 लोगों से दो दो लाख रूपये की बांड राशि जमा करने के लिए कहा है. अपर सिटी मजिस्ट्रेट (तृतीय) अनिल अग्निहोत्री ने बताया कि उन्होंने 66 लोगों को सीआरपीसी 107-116 के तहत दो दो लाख रूपये का श्योरिटी बांड जमा करने को कहा है. Also Read - केरल सरकार का बड़ा फैसला, नागरिकता कानून और सबरीमाला मामले को लेकर प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मुकदमे वापस होंगे

अग्निहोत्री ने बताया कि मामला चमनगंज थाने का है. पुलिस कानून व्यवस्था भंग करने या औरतों को भड़काने जैसे मामलों में अपनी रिपोर्ट अदालत को देती है, जिस पर संज्ञान लेकर नोटिस भेजा गया है. नोटिस पाने वाले को मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश होना पडता है और बांड भरना पडता है. Also Read - VIDEO: राहुल गांधी ने कहा- 'हम दो-हमारे दो' अच्छी तरह सुन लें, असम को कोई नहीं बांट पाएगा, CAA नहीं होगा

उन्होंने बताया कि मोहम्मद अली पार्क में प्रदर्शन चल रहा है. पुरूष औरतों को नारेबाजी के लिए भड़का सकते हैं या फिर कानून व्यवस्था भंग कर सकते हैं. अग्निहोत्री ने बताया कि एहतियातन 66 लोगों को नोटिस भेजकर बांड की राशि भरने को कहा गया है. बता दें कि पूरे देश में नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन चल रहे हैं. दिल्ली का शाहीन बाग इसका प्रमुख केंद्र बना हुआ है. शाहीन बाग में प्रदर्शन चलते हुए 40 दिन से अधिक हो गए हैं. लखनऊ का घंटाघर भी प्रदर्शन का केंद्र बना हुआ है. मुंबई में मुंबई बाग़ से प्रदर्शन चल रहा है. Also Read - अमित शाह का बड़ा बयान, कोविड-19 टीकाकरण समाप्त होने के बाद लागू किया जाएगा CAA

CAA Protest: जामिया इलाके में प्रदर्शन के बीच एक शख्स ने भीड़ पर की फायरिंग, एक को गोली लगी

सशक्त न्यू इंडिया के लिए महात्मा गांधी के विचार हमेशा प्रेरित करते रहेंगे : पीएम मोदी

नागरिकता कानून: शाहीन बाग की तरह ‘मुंबई बाग’ में भी हो रहा प्रदर्शन, महाराष्ट्र सरकार से की ये मांग