मेरठ: उत्तर प्रदेश पुलिस ने एक वीडियो क्लिप जारी की है, जिसमें दिखाया गया है कि मेरठ में प्रदर्शनकारियों ने एक दुकान के अंदर मौजूद 30 पुलिसकर्मियों और रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) के जवानों को आग लगाने की योजना बनाई थी. यह घटना 20 दिसंबर को लिसाड़ी गेट पर हुई, जब प्रदर्शनकारियों ने दुकान को बाहर से बंद कर दिया और वहां आग लगाने की कोशिश की. Also Read - यूपी: बीजेपी नेता की मौत, कार में मिली गोली लगी लाश, तमंचा और शराब की बोतल भी मिली

हालांकि, एसएसपी अजय साहनी समय रहते मौके पर पहुंच गए और उन्होंने सुरक्षाकर्मियों को वहां से बाहर निकाला. प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर गोलीबारी की, जिसमें दो आरएएफ जवान घायल हो गए. इस दौरान एक स्थानीय पत्रकार भी घायल हो गया. Also Read - Uttar Pradesh: मेरठ में एक महिला और पुरूष का शव मिला, पुलिस को आत्महत्या का शक

पुलिस ने कहा कि इसके संबंध में एक मामला दर्ज किया गया है और आरोपियों की पहचान करने की कोशिश की जा रही है. Also Read - UP: मेरठ में ट्यूशन से लौट रही 10वीं की छात्रा को अगवाकर 4 युवकों ने गैंगेरप किया, पीड़िता ने जहर खाकर सुसाइड की

(इनपुट आईएएनएस)