मेरठ: उत्तर प्रदेश पुलिस ने एक वीडियो क्लिप जारी की है, जिसमें दिखाया गया है कि मेरठ में प्रदर्शनकारियों ने एक दुकान के अंदर मौजूद 30 पुलिसकर्मियों और रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) के जवानों को आग लगाने की योजना बनाई थी. यह घटना 20 दिसंबर को लिसाड़ी गेट पर हुई, जब प्रदर्शनकारियों ने दुकान को बाहर से बंद कर दिया और वहां आग लगाने की कोशिश की.Also Read - Rapid Rail/NCRTC: भारत की सबसे तेज ट्रेन रैपिड रेल मेट्रो और अन्य ट्रेनों से कैसे होगी अलग, जानें- यहां

हालांकि, एसएसपी अजय साहनी समय रहते मौके पर पहुंच गए और उन्होंने सुरक्षाकर्मियों को वहां से बाहर निकाला. प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर गोलीबारी की, जिसमें दो आरएएफ जवान घायल हो गए. इस दौरान एक स्थानीय पत्रकार भी घायल हो गया. Also Read - Bullet Train/Rapid Rail: बुलेट ट्रेन से तेज दौड़ रही है रैपिड रेल, ट्रायल के लिए तैयार; अगले साल से संचालन शुरू होने की उम्मीद

पुलिस ने कहा कि इसके संबंध में एक मामला दर्ज किया गया है और आरोपियों की पहचान करने की कोशिश की जा रही है. Also Read - CAA को लेकर Amit Shah का बड़ा बयान, कहा कोरोना खत्म होते ही नागरिकता संसोधन बिल करेंगे लागू | Watch Video

(इनपुट आईएएनएस)