Farmers Tractor Parade: किसान यूनियनों ने गणतंत्र दिवस पर प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली के लिए दिल्ली पुलिस से लिखित अनुमति मांगी है. प्रदर्शनकारियों ने आश्वासन दिया है कि वे 26 जनवरी को राजपथ पर आयोजित होने वाली परेड में हस्तक्षेप नहीं करेंगे. बता दें कि किसानों ने ये अनुमति उस दावे के एक दिन बाद मांगी है जब कहा गया था कि उन्हें दिल्ली में परेड निकालने के लिए पुलिस से परमीशन मिल गई है.Also Read - Republic Day Parade 2022: High Tech सुरक्षा के घेरे में दिल्ली | ज़मीन से आसमान तक रखी जा रही नजर

किसान नेताओं ने शुक्रवार को दावा किया था कि दिल्ली पुलिस ने नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहीं किसान यूनियनों को 26 जनवरी को राष्ट्रीय राजधानी में ट्रैक्टर परेड निकालने की अनुमति दे दी. हालांकि दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त जन संपर्क अधिकारी अनिल मित्तल ने कहा, ‘किसानों से हमारी वार्ता अंतिम चरण में है.’ Also Read - Republic Day parade में शामिल होने वालों के लिए दिल्ली पुलिस ने जारी की गाइडलाइंस, इन नियमों का करना होगा पालन

रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली पुलिस आज ट्रैक्टर रैली को लेकर अंतिम फैसला कर सकती है. Also Read - Republic Day Parade के लिए गाइडलाइंस जारी, शामिल होने के लिए यह सर्टिफिकेट जरूरी; 15 साल तक के बच्चों को नो एंट्री

इस बीच, एक किसान नेता ने कहा कि उन्हें रैली के लिए पुलिस की अनुमति की आवश्यकता नहीं है. उन्होंने कहा, “गणतंत्र दिवस ट्रैक्टर रैली के लिए कई किसान दिल्ली आ रहे हैं.” समाचार एजेंसी एएनआई ने पंजाब किसान संघर्ष समिति के सतनाम सिंह पानू के हवाले से कहा कि हम दिल्ली के आउटर रिंग रोड पर रैली का आयोजन करेंगे, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि दिल्ली पुलिस अनुमति देती है या नहीं.

गौरतलब है कि हजारों किसान 26 नवंबर से राष्ट्रीय राजधानी की विभिन्न सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं. ज्यादातर किसान पंजाब और हरियाणा से हैं. किसानों की मांग है कि तीनों विवादास्पद कृषि कानूनों को निरस्त किया जाए. प्रदर्शनकारी किसान यूनियनों के अनुसार परेड में दो लाख से अधिक ट्रैक्टरों के भाग लेने की उम्मीद है और रैली के करीब पांच मार्ग होंगे. दिल्ली के राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड समाप्त होने के बाद दोपहर 12 बजे ट्रैक्टर परेड निकाली जाएगी.

प्रदर्शनकारी किसान यूनियनों के मुख्य संगठन संयुक्त किसान मोर्चा के वरिष्ठ सदस्य अभिमन्यु कोहाड़ ने दावा किया कि दिल्ली पुलिस ने किसानों को गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रीय राजधानी में ट्रैक्टर परेड निकालने की अनुमति दे दी है. कोहाड़ ने यूनियनों और पुलिस के बीच हुई बैठक में शिरकत करने के बाद कहा कि ट्रैक्टर परेड दिल्ली के गाजीपुर, सिंघू और टीकरी बॉर्डरों से शुरू होंगी.

किसान नेताओं ने कहा कि पांच मार्गों को सैद्धांतिक मंजूरी दी गई है और हर मार्ग पर किसान ट्रैक्टरों से 100 किलोमीटर तक का सफर तय करेंगे. उन्होंने कहा कि 70 से 78 प्रतिशत मार्ग दिल्ली में होंगे जबकि शेष मार्ग राष्ट्रीय राजधानी से बाहर होंगे. सूत्रों ने कहा कि सिंघू बॉर्ड से ट्रैक्टर परेड का एक संभावित मार्ग गांधी ट्रांसपोर्र्ट नगर होगा. यहां से परेड कंझावाल और बवाना इलाकों से होती हुआ जाएगी और वापस प्रदर्शन स्थल पर लौट आएगी.

उन्होंने कहा कि टीकरी बॉर्डर पर डटे किसान प्रदर्शन स्थल से अपनी परेड शुरू करेंगे और यह नांगलोई, नजफगढ़, बादली, और कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेसवे होती हुई जाएगी. किसान नेता दर्शन पाल ने कहा दिल्ली की सीमाओं पर लगाए गए अवरोधकों को 26 जनवरी को हटा दिया जाएगा और किसान राष्ट्रीय राजधानी में प्रवेश करके ट्रैक्टर रैलियां निकालेंगे.