बीते गुरुवार को कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले हुए हमले के बाद घाटी में सुरक्षाबलों ने बेहद कड़ा रुख अपनाया है. सेना, सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने एक साझा प्रेस कांफ्रेंस कर मंगलवार को कहा कि इस हमले को अंजाम देने वाले आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई कंट्रोल कर रही है. उन्होंने स्पष्ट किया कि घाटी में जो भी बंदूक उठाएगा वो मारा जाएगा. सेना के लेफ्टिनेंट जनरल जे एस ढिल्लन (Goc 15वीं कोर) ने कहा कि इस हमले के मास्टरमाइंड को हमने 100 घंटे के भीतर मार गिराया. इस प्रेस कांफ्रेंस की ये 10 अहम बातें रहीं….

कश्मीर में जैश के सभी टॉप कमांडर ढेर.
कामरान को लगातार आईएसआई से निर्देश मिल रहे थे.
आतंकवाद का रास्ता अपना चुके युवा मेन स्ट्रीम में लौटें वरना मारे जाएंगे.
सेना ने कहा पुलवामा हमले में पाकिस्तान का हाथ है.
जैश-ए-मोहम्मद पाकिस्तानी सेना का बच्चा है.
सेना और आईएसआई के इशारे पर काम करता है.
जैश को आईएसआई कंट्रोल कर रही है.
कश्मरी में जो घुसपैठ करेगा वो बच नहीं पाएगा.
कश्मीर में कितने गाजी आए, कितना चले गए.
आईएसआई के इशारे पर काम करता है जैश.