नई दिल्ली: दक्षिण कश्मीर में पुलवामा जिले के पिंगलान इलाके में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ में सेना के 4 जवान शहीद हो गए वहीं एक जवान घायल हो गया. इस दौरान एक नागरिक की भी मौत हुई है. मुठभेड़ जिस जगह हुई वह कुछ दिनों पहले केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के काफिले पर हुए आत्मघाती हमले के स्थान से महज 10 किलोमीटर की दूरी पर ही है. इस हमले में 40 जवान शहीद हुए थे. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जिस घर में आतंकवादी छिपे हुए थे उस घर को सुरक्षाबलों ने धमाके से उड़ा दिया है. सभी 5 से 6 आतंकवादियों के मारे जाने की खबर है. पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड अब्दुल गाजी के मारे जाने की खबर है. बताया जा रहा है कि जैश कमांडर कामरान भी मारा गया. Also Read - 'मेरी नहीं तो किसी की नहीं' कहकर तौसीफ ने निकिता के सीने में मारी गोली, कंगना बोली- एनकाउंटर करो!

Also Read - निकिता हत्याकांड: कंगना रनौत के तीखे बोल- लव जिहाद ने ली एक और जान! तौसीफ का एनकाउंटर करो!

पुलवामा में आतंकियों से मुठभेड़ में मेजर सहित 4 जवान शहीद, 5 दिन में 45 जवानों की शहादत Also Read - भारत सरकार ने हिजबुल चीफ सलाहुदीन समेत पाकिस्तान के 18 दहशतगर्दों को आतंकी घोषित किया, देखें पूरी लिस्‍ट

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि पिंगलेना गांव में रविवार रात हुई गोलीबारी में पांच लोगों की मौत हुई है जिसमें एक सैन्य अधिकारी और नागरिक शामिल हैं जिसकी पहचान मुश्ताक अहमद के रूप में हुई है. मुठभेड़ रविवार देर रात शुरू हुई जब सुरक्षा बलों, राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर), राज्य पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने जैश-ए-मुहम्मद (जेईएम) के आतंकवादियों की यहां छिपे होने की खुफिया सूचना मिलने के बाद पिंगलेना गांव को घेर लिया.

पुलिस सूत्रों ने बताया कि घेराबंदी जैसे ही कड़ी हुई छिपे हुए आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी जिसके बाद दोनों ओर से मुठभेड़ शुरू हो गई. यह मुठभेड़ पुलवामा में जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर सीआरपीएफ काफिले पर हुए आत्मघाती हमले के एक सप्ताह से भी कम समय में हुई है.