नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर में पिछले साल के पुलवामा हमले जैसी एक बड़ी आतंकी साजिश को सुरक्षाबलों ने नाकाम कर दिया है. सुरक्षाबलों ने यहां पुलवामा में कार के अंदर प्लांट की गई IED (इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस) को डिफ्यूज कर दिया है. इस बम को यहां खड़ी एक सैंट्रों कार के अंदर प्लांट किया गया था. बता दें कि CRPF और सेना को इस बात की सूचना मिली थी कि एक कार के अंदर करीब 40 किलो  विस्फोटक लेकर जाया जा रहा है. तड़के सुबह सुरक्षाबलों ने कार को घेर लिया और गोलीबारी शुरू हो गई. इस दौरान गोलीबारी के बीच अंधेरे का फायदा उठाकर आतंकी सुरक्षाबलों से बचकर भाग निकला. Also Read - रक्षामंत्री राजनाथ सिंह 17 जुलाई को जाएंगे लद्दाख, सेना प्रमुख संग फॉरवर्ड ब्लॉक का करेंगे दौरा

रजपुरा रोड के पास शादीपुरा में पकड़े गए कार में प्लांटेड बम के बारे में पता चलते ही बम डिस्पोजल स्क्वॉड को बुलाया गया. इसके बाद स्क्वॉड ने कार में प्लांटेड बम को डिफ्यूज कर दिया और बड़ी धमाके की साजिश को सुरक्षाबलों ने नाकाम कर दिया. बता दें कि इस बम का वजन 40 किलो तक का बताया जा रहा है. खबरों की मानें तो इस कार पर दोपहिया वाहन का नंबर प्लेट लगाया गया था. यह नंबर कठुआ में रजिस्टर्ड है. इस पूरे मामले की जांच NIA को सौंप दी गई है. Also Read - जम्मू-कश्मीर भाजपा प्रमुख को हुआ कोरोना, जितेन्द्र सिंह और राम माधव ने खुद को किया क्वारंटाइन

बता दें कि पिछले साल पुलवामा में कुछ ऐसा ही आतंकी हमला देखने को मिला था. उस दौरान एक कार में काफी मात्रा में विस्फोटक भरा हुआ था.  कार को आतंकवादियों ने CRPF के काफिले में लाकर उड़ा दिया. इस धमाके में CRPF के कुल 45 जवान शहीद हुए थे. बता दें कि काफी वक्त से कश्मीर में सेना का सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है. इसी ऑपरेशन में बीते दिनों हिज्बुल के टॉप आंतकवादी और कमांडर रियाज नायकू को सुरक्षाबलों ने ढेर कर दिया था.