नई दिल्ली: शहीद हुए 40 जवानों के पार्थिव शरीर दिल्ली से गृह नगरों/ घरों के लिए दिल्ली से रवाना कर दिए गए हैं. रात में या सुबह तक शहीदों के पार्थिव शरीर परिवार और गाँवों के बीच पहुंच जाएंगे. देश के अलग-अलग हिस्सों के रहने वाले जवानों के परिजनों और उनके गांवों-कस्बों में लोग सदमे में हैं. शहीदों के परिजनों में हड़कंप है. किसी बेटी ने अपने पिता को खोया है, किसी ने पति तो किसी ने बेटा. आँखों में आंसू हैं. करुण क्रंदन हैं, इसके बाद भी परिजनों की जुबां पर यही है कि हमें शहादत पर गर्व है. वक़्त आ गया है कि पाकिस्तान को सबक सिखाया जाए. Also Read - CRPF Raising Day: CRPF स्थापना दिवस पर पीएम मोदी ने दी बधाई, बोले- राष्ट्र को सुरक्षित रखने में आप सबसे आगे

Also Read - Delhi : लोधी एस्टेट में CRPF सब-इंस्‍पेक्‍टर ने इंस्‍पेक्‍टर को पहले और फिर खुद को मारी गोली, दोनों की मौत

एक्शन शुरू: 7 युवक हिरासत में, एक पाकिस्तानी नागरिक ने बनाई थी पुलवामा हमले की योजना! Also Read - लैब टेक्नीशियन की अपहण और मर्डर केस: अपर पुलिस अधीक्षक समेत 4 पुलिस अफसर सस्‍पेंड

बेहद भावुक है परिवार

पुलवामा हमले में शहीद हुए कन्नौज के रहने वाले प्रदीप सिंह के परिजनों का बुरा हाल है. शहीद की बेटी लगातार फूट-फूट कर रो रही है. पत्नी व अन्य परिजनों का भी बुरा हाल है. गाँव के लोग भी सदमे हैं. कन्नौज सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का संसदीय क्षेत्र रहा है. शहीद के परिजनों के बीच पहुंचे अखिलेश के सामने शहीद के परिजन अत्यंत भावुक हो गए. शहीद की बेटी फूट-फूट कर रो पड़ी. उसके आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. अखिलेश ने कहा कि इस बच्ची के लिए हम जो कर सकेंगे, करेंगे. अखिलेश ने तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर शेयर की हैं.

ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के वंशज की मांग, अजमेर दरगाह आने से रोके जाएं पाकिस्तान के लोग

हिमाचल प्रदेश के तिलक राज का परिवार भी सदमे में

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के जावील के रहनेवाले तिलक राज गुरुवार को हुए हमले से तीन दिन पहले ही अपने घर से निकले थे. पिछले महीने ही उनके बेटे का जन्म हुआ है.40 शहीदों में से एक तिलक राज के परिवार में कुछ समय पहले ही किलकारी गूंजी थी लेकिन कल की घटना ने पूरे परिवार को हिला दिया है. राज के परिवार में उनका एक और बेटा है जो अभी तीन साल का है. इसके अलावा उनके परिवार में उनके माता-पिता और बड़े भाई है. उनके माता-पिता रामा राम और बिमला देवी ने कहा कि उन्हें अपने बेटे पर गर्व है जिसने देश के लिए शहादत दे दी. परिवार सहित धेवा गांव में हमले की खबर आते ही शोक की लहर छा गई. शहीद के पिता ने कहा, ‘‘हमने बेटा खोया. हम चाहते हैं कि पाकिस्तान को करारा जवाब मिले.”

गर्भवती हैं पुलवामा में शहीद हुए जवान की पत्नी, कहा- आखिरी बार जी भर बात भी न हो सकी

तिलक राज के परिजनों से मिलने पहुंचे मंत्री-विधायक

कांगड़ा के पुलिस उपायुक्त संदीप कुमार ने कहा, ‘‘शहीद का पार्थिव शरीर यहां पहुंचने की प्रतीक्षा कर रहे हैं. यहां खाद्य आपूर्ति मंत्री किशन कपूर और पुलिस अधीक्षक संतोष पाटियाला उपस्थित रहेंगे. राज्य के मंत्री किशन कपूर और विधायक अर्जुन सिंह ने भी परिवार से मुलाकात की और परिवार को तत्काल सहायता के तौर पर पांच लाख रुपये का चेक दिया. कांग्रेस और भाजपा दोनों ने मुआवजा राशि की घोषणा का स्वागत किया. राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने राजभवन में विधायकों के साथ रात्रिभोज रद्द कर दिया.

आखिरी सलाम: PM मोदी शहीदों के पार्थिव शरीर के सामने हाथ जोड़कर चले, श्रद्धांजलि दी