पुणे: पुणे में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के कार्यकर्ताओं ने रविवार शाम से लेकर रात 10 बजे तक जुलूस निकाले. जुलूस में शामिल लड़कियों ने बंदूक चलाईं और तलवारें लहराईं. सोमवार को पुलिस ने उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की. एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि जुलूस में लड़कियों को बंदूक से हवा में गोलियां चलाते और तलवारें लहराते देखा गया. शहर के बाहरी इलाके निगुड़ी में रविवार शाम 5 बजे से लेकर रात 10 बजे तक अंकुश चौक से शुरू हुए जुलूस को ठाकरे मैदान तक ले जाया गया.

एक पुलिस अधिकारी विकास एन. दुधे ने विहिप कार्यकर्ताओं के खिलाफ शिकायत दर्ज की है. जिन लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है, उनमें स्थानीय इकाई के अध्यक्ष शरद इनामदार, जिला प्रमुख धनजी शिंदे, नितिन वाटकर और 200 अन्य अज्ञात लोग शामिल हैं. प्राथमिकी के अनुसार, दुधे ने कहा कि जुलूस में कम से कम चार लड़कियां अवैध रूप से हवाई बंदूकें ले जा रही थीं और अन्य पांच ने तलवारें लहराईं.

दुधे ने कहा कि कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पिंपरी-चिंचवाड़ा पुलिस ने 21 मई से तीन जून तक सभी तरह के खतरनाक हथियारों पर प्रतिबंध लगा दिया था और विहिप के जुलूस ने पुलिस के आदेशों की धज्जियां उड़ाईं. इस मामले में अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

क्या खतरे में है गठबंधन: हार की समीक्षा कर मायावती ने कहा- बसपा को यादवों ने नहीं दिए वोट

18 साल की लड़की की ट्रेन में दम घुटने पर मौत, जनरल कोच में भीड़ अधिक होने से नहीं ले सकी सांस