नई दिल्ली: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह ने मंगलवार को कहा कि वह नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे की अंतर्वस्तु पर विचार करने के बाद बुधवार को फैसला करेंगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में उनकी कुछ बैठकें हैं और वह बुधवार को चंडीगढ़ लौटेंगे. सीएम सिंह ने बताया, “मैं कल चंडीगढ़ लौटने के बाद इस्तीफे पर फैसला लूंगा. मुझे इस्तीफा पर फैसला लेने से पहले त्याग पत्र की अंतर्वस्तु देखनी होगी.” मुख्‍यमंत्री के इस बयान से कयास लगाए जा रहे हैं कि क्‍या कैप्‍टन अब सिद्धू पर नरम हुए हुए हैं या कांग्रेस आलाकमान की ओर से कोई इशारा मिला है.

सिद्धू ने पंजाब मंत्रिमंडल से अपना इस्तीफा सोमवार को मुख्यमंत्री का आवास भेजा था. इससे पहले सिद्धू ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को 10 जून को अपना इस्तीफा भेजने का दावा किया था. उन्होंने रविवार को अपना त्यागपत्र सार्वजनिक कर दिया था.

बता दें कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने राज्य कैबिनेट से इस्तीफे की घोषणा के एक दिन बाद सोमवार को अपना त्यागपत्र मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह को भेज दिया था. उन्होंने ट्वीट किया था, ” आज मैंने अपना इस्तीफा पंजाब के मुख्यमंत्री को भेज दिया है, उनके आधिकारिक आवास पर पहुंचा दिया गया है.

सिंह के साथ विवाद में उलझे सिद्धू से छह जून को कैबिनेट में हुई फेरबदल के बाद सभी महत्वपूर्ण मंत्रालय वापस ले लिए गए थे.
सिद्धू ने इसे लेकर 9 जून को दिल्ली में राहुल गांधी से मुलाकात की और 10 जून को उन्हें पत्र लिखा.

बीते रविवार को अपना पत्र सार्वजनिक करते हुए सिद्धू ने ट्वीट किया था, मैं पंजाब कैबिनेट से मंत्री के तौर पर इस्तीफा देता हूं. उन्होंने एक अन्य ट्वीट किया कि वह मुख्यमंत्री को भी अपना इस्तीफा भेजेंगे.

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने छह जून को सिद्धू से स्थानीय निकाय और पर्यटन एवं सांस्कृतिक मामलों के विभाग वापस ले लिए थे और उन्हें ऊर्जा एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग का प्रभार सौंपा था.

कैबिनेट में फेरबदल के दो दिन बाद आठ जून को सरकार के महत्वाकांक्षी कार्यक्रमों के क्रियान्वयन में तेजी के लिए मुख्यमंत्री द्वारा गठित मंत्रणा समूहों से भी सिद्धू को बाहर रखा गया था.