चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने बुधवार को कहा कि बेअदबी की घटनाओं में सीबीआई द्वारा क्लोजर रिपोर्ट दाखिल करने से सिख समुदाय के बीच काफी रोष है. मुख्यमंत्री ने इस रिपोर्ट को तुरंत वापस लेने और पवित्र ग्रंथ से बेअदबी के मामले में सीबीआई की जांच फिर से खोलने की मांग की. Also Read - CBI ने छत्तीसगढ़ का सेक्स सीडी केस को दिल्ली ट्रांसफर करने की मांग की, CM भूपेश बघेल हैं आरोपी

  Also Read - प्राइवेट कंपनी को टेंडर देने लिए रेलवे अधिकारी ने ली एक करोड़ की रिश्वत, CBI ने रंगे हाथ पकड़ा, हुआ गिरफ्तार

अमरिंदर सिंह ने एक बयान में कहा कि इससे (सीबीआई की क्लोजर रिपोर्ट से) सिख समुदाय आहत हुए हैं और उनमें गहरा रोष है और मामले में आगे विस्तृत छानबीन सुनिश्चित करने के लिए इसे तुरंत वापस लेना चाहिए. मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि सीबीआई ने जांच के कुछ अहम पहलुओं को ‘नजरअंदाज’ किया. यह भी आरोप लगाया कि जांच एजेंसी दोषियों की पहचान और उन्हें न्याय के कटघरे तक पहुंचाने में भी नाकाम रही.

तीन घटनाओं में आरोपियों को क्लीनचिट
सीबीआई ने चार जुलाई को मोहाली में सीबीआई की विशेष अदालत में अपनी क्लोजर रिपोर्ट दाखिल कर फरीदकोट में 2015 में गुरु ग्रंथ साहिब से बेअदबी की तीन घटनाओं में आरोपियों को क्लीनचिट दे दी थी .