पंजाब कांग्रेस में अंदरूनी कलह के बीच नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने बुधवार को राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) से मुलाकात की. प्रियंका के साथ मुलाकात की तस्वीर शेयर करते हुए सिद्धू ने ट्वीट किया था, ‘प्रियंका गांधी जी के साथ लंबी मुलाकात हुई.’ दिन में प्रियंका से मुलाकात के बाद सिद्धू ने शाम के समय राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के 12 तुगलक लेन आवास पहुंचकर उनसे मुलाकात की.Also Read - राहुल गांधी के ऑफिस पर हमला, करीब 100 लोगों ने की तोड़फोड़, सीएम ने की निंदा, Video

इससे पहले खबरें आई थीं कि सिद्धू राहुल गांधी से मंगलवार को मुलाकात कर सकते हैं. हालांकि राहुल गांधी ने कहा था मंगलवार को सिद्धू के साथ उनकी कोई मुलाकात तय नहीं है. सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस आलाकमान, संगठन या सरकार में सिद्धू को कोई अहम जिम्मेदारी देकर मनाने की कोशिश में है, लेकिन सिद्धू लगातार इस बात पर जोर दे रहे हैं कि मुख्यमंत्री उनके साथ काम नहीं कर सकते. हाल के कुछ हफ्तों से सिद्धू और पंजाब कांग्रेस के कुछ अन्य नेताओं ने मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है. Also Read - 25 जून : जानिए नसबंदी से लेकर अखबारों की सेंसरशिप तक इमरजेंसी की पूरी कहानी

Also Read - एमवीए सरकार के संकट के बीच एनसीपी, कांग्रेस के कोटे के मंत्रालयों के बीच मची होड़, जारी किए हजारों करोड़ के जीआर

सिद्धू का कहना है कि गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के मामले में अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई और भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए कारगर कदम भी नहीं उठाए गए. पंजाब में कांग्रेस की कलह दूर करने के प्रयास के तहत राहुल गांधी ने हाल के दिनों में पार्टी के कई नेताओं के साथ मंथन किया था.

पार्टी की तीन सदस्यीय समिति ने भी 100 से अधिक नेताओं और मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के साथ मंत्रणा की थी. सूत्रों के मुताबिक, पंजाब कांग्रेस में मचे घमासान को शांत करने के लिए नवजोत सिंह सिद्धू को पार्टी में अहम जिम्मेदारी मिल सकती है और इसका ऐलान आगले एक से दो दिनों में हो सकता है.

बता दें कि सिद्धू ने लंबे वक्त से मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है. हाल ही में पंजाब को लेकर हलचल बढ़ी थी, क्योंकि अगले साल वहां चुनाव होने हैं.

(इनपुट: भाषा)