Lockdown in Punjab: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने बृहस्पतिवार को सप्ताहांत और सार्वजनिक अवकाशों पर लॉकडाउन को सख्ती से लागू करने का आदेश दिया है. यहां तक ​​कि राज्य सरकार दिल्ली से आने वाले लोगों के लिए कड़े प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहा है. सप्ताहांत और छुट्टियों पर प्रतिबंधों को कड़ा करने का निर्णय पंजाब में संक्रमण के सामुदायिक प्रसार के चरण में पहुंचने की आशंकाओं के बीच लिया गया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि हालांकि, औद्योगिक गतिविधियों को सभी दिन सामान्य रूप से कार्य करने की अनुमति होगी. Also Read - CBSE Class X, XII Result 2020: इस आधार पर छात्रों को दिए जाएंगे मार्क्स, जानें रिजल्ट से जुड़ी बड़ी बातें

पंजाब में बृहस्पतिवार को 82 और लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद कोविड-19 के मामलों की कुल संख्या 2,887 तक पहुंच गई. पिछले 10 दिनों में राज्य में 500 से अधिक लोगों को वायरस से संक्रमित पाया गया है. महामारी की स्थिति और इससे निपटने के लिए राज्य की अग्रिम तैयारियों की समीक्षा करने के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये आयोजित एक बैठक में मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि चिकित्सा कर्मियों और आवश्यक सेवा प्रदाताओं को छोड़कर सभी नागरिकों को कोवा (कोरोना वायरस अलर्ट) ऐप से ई-पास डाउनलोड करने की आवश्यकता होगी. Also Read - देश में आर्थिक संकट पर शरद पवार बोले- भारत को इस समय एक मनमोहन सिंह की जरूरत

पंजाब सरकार ने लोगों को रोग निवारक जानकारी और अन्य सरकारी सलाह प्रदान करने के लिए ‘कोवा पंजाब’ ऐप तैयार किया है. यहां जारी एक सरकारी बयान के मुताबिक, सिंह ने पुलिस महानिदेशक दिनकर गुप्ता से इन निर्देशों को सख्ती से लागू करने के लिए कहा है. Also Read - Weekends Lockdown in Uttar Pradesh: यूपी में हर हफ्ते 55 घंटे के लॉकडाउन में होंगे ये काम, आप क्या करें, क्या नहीं, जानें

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य और दुनिया भर में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण इस तरह के सख्त उपायों की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि जब तक महामारी के इलाज के लिए टीका विकसित नहीं हो जाता, तब तक सख्त उपाय ही महामारी से लड़ने का एकमात्र तरीका है. बयान में कहा गया है कि विशेषज्ञों के साथ समीक्षा बैठक करने के बाद, दिल्ली से आने वाले लोगों पर कड़े प्रतिबंध लगाने के बारे में फैसला किया जाएगा.