चंडीगढ़। पंजाब सरकार ने एक महत्वपूर्ण फैसला लेते हुए ड्रस तस्करों के खिलाफ मौत की सजा का प्रस्ताव तैयार किया है. इस संबंध में प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा गया है. सीएम अमरिंदर सिंह ने कहा कि ड्रग तस्कर पूरे जेनरेशन को तबाही की ओर धकेल रहे हैं, ऐसे में उन्हें सख्त से सख्त सजा दिया जाना जरूरी है. मैं अपने उस वादे पर कायम हूं कि पंजाब को हर कीमत पर नशामुक्त किया जाए.

केंद्र को भेजा प्रस्ताव

आज पंजाब की राजधानी चंडीगढ़ के सचिवालय में इस संबंध में बैठक हुई जिसमें ये प्रस्ताव पास हुआ और इसे केंद्र के पास भेजा गया. अगर केंद्र सरकार से इस सिफारिश को मंजूरी मिल जाती है तो ड्रग तस्करों के खिलाफ जंग में बड़ी कामयाबी मिलने की उम्मीद है.

नशे की चपेट में युवा पीढ़ी

बता दें कि पंजाब ड्रग तस्करों का बडा़ अड्डा है और यहां की युवा पीढ़ी नशे की चपेट में है. इसे लेकर ही पिछला विधानसभा चुनाव लड़ा गया था. अकाली-बीजेपी सरकार पर विपक्ष ने ड्रग तस्करी से सख्ती से नहीं निपटने का आरोप लगाया था. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने वादा किया था कि वह सख्त कानून बनाएंगे और पंजाब को नशामुक्त करके रहेंगे.

आम आदमी पार्टी ने भी इसे बड़ा मुद्दा बनाया था और इसी से उसकी पहचान भी बनी. हालांकि चुनाव में जनता ने कांग्रेस को भारी बहुमत से जिताया और आप दूसरे नंबर पर रही. अकाली-बीजेपी ने सत्ता गंवाई और तीसरे नंबर पर रही.