चंडीगढ़. पंजाब के मंत्री एवं कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के दिल की भड़ास आखिरकार जुबां पर आ ही गई. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को पार्टी का ‘सुपर कैप्टन’ करार देते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से ‘लोहा’ लेने वाले सिद्धू ने सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की. पंजाब में खुद को अहम स्थानीय शासन विभाग से हटाए जाने के कुछ ही दिन बाद पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी से उन्होंने सोमवार को दिल्ली में मुलाकात की. इस मुलाकात के दौरान सिद्धू ने राहुल गांधी को राज्य की ‘‘स्थिति’’ से अवगत कराया.

राहुल से मुलाकात के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने ट्वीट किया, ‘‘कांग्रेस अध्यक्ष से मुलाकात की, उन्हें अपना पत्र सौंपा, उन्हें स्थिति से अवगत कराया.’’ क्रिकेटर से नेता बने सिद्धू ने राहुल गांधी, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के साथ अपनी एक तस्वीर भी पोस्ट की. सियासी हलकों में सिद्धू की इस मुलाकात को पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार द्वारा उनका ‘ओहदा’ घटाए जाने के बाद की प्रतिक्रिया माना जा रहा है.

पंजाब मंत्रिमंडल में फेरबदल में मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सिद्धू से स्थानीय शासन और पर्यटन एवं सांस्कृतिक मामलों के विभागों का कार्यभार ले लिया था. इसके बाद सिद्धू ने पिछले सप्ताह राहुल गांधी से मिलने की कोशिश की थी. उन्हें ऊर्जा और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा स्रोतों के विभागों की जिम्मेदारी दी गई है.

वर्ष 2017 में हुए विधानसभा चुनाव से ठीक पहले भाजपा से कांग्रेस आने वाले सिद्धू ने इससे पहले कैबिनेट की बैठक में भाग नहीं लिया था और इसके बजाए गुरुवार को अपने आधिकारिक आवास पर मीडिया से बात की थी. सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और सिद्धू के बीच तनाव पिछले महीने उस समय सामने आया था, जब मुख्यमंत्री ने लोकसभा चुनाव में पंजाब के शहरी इलाकों में कांग्रेस के ‘‘खराब प्रदर्शन’’ के लिए सिद्धू को दोषी ठहराया था.

सिद्धू ने बीते गुरुवार को कहा था कि उनके विभाग को ‘‘सार्वजनिक तौर पर निशाना’’ बनाया जा रहा है. उन्हें हल्के में नहीं लिया जा सकता.

(इनपुट – एजेंसी)