नई दिल्ली. पंजाब नेशनल बैंक और रोटोमैक के बाद अब एक और बैंक घोटाला सामने आया है. इसमें पंजाब के मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह के दामाद गुरपाल सिंह के खिलाफ सीबीआई ने केस दर्ज किया है. सीबीआई ने 97.85 करोड़ रुपए की कथित बैंक ऋण धोखाधड़ी के मामले में सिम्भौली शुगर्स लिमिटेड, उसके अध्यक्ष गुरमीत सिंह मान, उप महाप्रबंधक गुरपाल सिंह (पंजाब के मुख्‍यमंत्री के दामाद) और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया है. यहां बता दें कि सिम्भौली शुगर्स लिमि‍टेड देश की सबसे बड़ी चीनी मिलों में से एक है. Also Read - NIOS 12th Result 2020 Declared: एनआईओएस ने 12वीं का रिजल्ट किया जारी, ये रहा चेक करने का Direct Link

ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स से लिए गए थे दोनों लोन
आरोप है कि चीनी मिल के नाम पर दो लोन लिए गए थे, जिसमें एक 97.85 करोड़ और दूसरा 110 करोड़ रुपए का है. मुकदमें के मुताबिक दोनों लोन ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स से लिए गए थे. 97.85 करोड़ के लोन को साल 2015 में ही फ्रॉड घोषित किया गया था. वहीं पुराने लोन को चुकाने के नाम पर 110 करोड़ रुपए का कॉरपोरेट लोन लिया गया था. 29 नवंबर 2016 को नोटबंदी लागू होने के तीन सप्ताह बाद दूसरे लोन को भी एनपीए (नॉन परफॉर्मिंग एसेट) की श्रेणी में डाल दिया गया है. बैंक ने 17 नवंबर 2017 को सीबीआई से इस मामले की शिकायत की थी. अब इस मामले में मुकदमा दर्ज किया गया है. सीबीआई ने गुरपाल सिंह के अलावा 12 और लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. Also Read - ENG vs PAK सीरीज से ICC टेस्‍ट क्रिकेट में करने जा रहा है तकनीकी प्रयोग, अब नो बॉल के लिए…

सीबीआई ने गुरपाल सिंह के घर, शूगर फैक्ट्री और कॉरपोरेट ऑफिस की तलाशी ली
समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक, सीबीआई ने कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जीएस सी राव, सीएफओ संजय तापड़िया, कार्यकारी निदेशक गुरसिमरन कौर मान और पांच गैर-कार्यकारी निदेशकों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.सीबीआई के प्रवक्ता अभिषेक दयाल ने बताया कि इस मामले में गुरपाल सिंह के घर, शूगर फैक्ट्री और दिल्ली, हापुड़ और नोएडा स्थित कॉरपोरेट ऑफिस की भी तलाशी ली जा चुकी है. मुकदमा में कहा गया है ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स ने सिम्भौली शुगर्स मिल को साल 2011 में 148.60 करोड़ रुपए लोन दिए थे. Also Read - SSR Death Case: पटना आईजी के पत्र के बावजूद विनय तिवारी को छोड़ने तैयार नहीं है बीएमसी

हरसिमरत कौर बादल ने बोला हमला
केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री और पंजाब के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल की पत्नी हरसिमरत कौर बादल ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के परिवार पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि आप उन मुख्यमंत्रियों से क्या उम्मीद करते हैं, जो विदेशों में काले धन का पैसा लेने में उलझे हुए हैं? पंजाब के मुख्यमंत्री का पूरा परिवार घोटाले में उलझा हुआ है. इसमें आश्चर्य की बात नहीं है, क्योंकि यह कांग्रेस की पुरानी आदत है.