नई दिल्ली: एक लंबे इंतजार के बाद आज भारतीय सेना को दुनिया का सबसे खतरनाक लड़ाकू विमानों में गिना जाने वाला राफेल मिल जाएगा. कुछ देर पहले फ्रांस से चले पांच राफेल विमान भारतीय एयर स्पेस में एंट्री कर चुके हैं और इसके लिए इंडियन एयर फोर्स कंट्रोल रूम से उनका स्वागत भी किया गया. वैसे तो अंबाला एयर बेस पर पांचों राफेल विमानों के स्वागत की जोर दार तैयारियां है. बता दें कि अंबाला एयर बेस के पास सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है और वायु सेना चीफ आरएस भदौरिया पांचो विमानों को रिसीव करेंगे. Also Read - राफेल को भारत तक लाने वाले कश्मीरी पायलट हिलाल अहमद पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक का भी हिस्सा थे

जब राफेल विमानों ने भारतीय सीमा में प्रवेश किया तब अरब सागर में स्थित INS कोलकाता कंट्रोल रूम से ही उनका स्वागत किया गया. राफेल के स्वागत में INS कोलकाता कंट्रोल रूम की ओर से कहा गया कि, इंडियन नेवल वॉर शिप डेल्टा 63 ऐरो लीडर. मे यू टच द स्काई विद ग्लोरी, हैप्पी हंटिंग. हैप्पी लैंडिंग. Also Read - राफेल को लेकर बोले पूर्व आईएएफ चीफ- नहीं चाहता था कि इस विमान का सौदा भी बोफोर्स की राह पर जाए

INS कोलकाता कंट्रोल रूम को जवाब देते हुए राफेल के विमानों ने शुक्रिया अदा किया. आज भारतीय सेना के लिए बहुत ही गर्व का दिन है. एक लंबे समय के बाद राफेल का भारतीय सेना में शामिल होने का सपना पूरा होने जा रहा है.