नई दिल्लीः  कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी के कई अन्य वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में कांग्रेस मुख्यालय में शनिवार को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर तिरंगा फहराया गया. पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी की अनुपस्थिति में वरिष्ठ नेता एके एंटनी ने झंडा फहराया. कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि हाल ही में अस्पताल से लौटीं सोनिया गांधी चिकित्सकों के परामर्श के अनुसार इस मौके पर उपस्थित नहीं हो सकीं. Also Read - Political Recation: राहुल और केजरीवाल ने पीएम को कुछ यूं दी जन्मदिन की शुभकामनाएं...जानिए किस नेता ने क्या कहा?

ध्वजारोहण करने के बाद पार्टी नेताओं ने राष्ट्रीय गीत, राष्ट्रगान और ‘विजयी विश्व तिरंगा प्यारा…’ का गान किया. इस अवसर पर राहुल गांधी और एंटनी के अलावा वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, केसी वेणुगोपाल, अधीर रंजन चौधरी, राजीव शुक्ला, आरपीएन सिंह तथा कई अन्य नेता मौजूद थे. Also Read - केंद्र सरकार ने कहा-हमारे पास मौत का आंकड़ा नहीं, मुआवजा कैसे दें, राहुल गांधी ने कही ये बात...

ध्वजारोहण के बाद कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से लाल किले की प्राचीर से ‘आत्मनिर्भर भारत’ पर जोर दिए जाने को लेकर सरकार पर तंज किया. Also Read - राहुल गांधी ने केरल के बीजेपी नेता की मदद के लिए कुछ ऐसा, कांग्रेस में ही हड़कंप

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘सबसे पहले देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की कोटि-कोटि बधाई. हर भारतवासी को सोचना है कि आज आजादी के मायने क्या हैं? क्या हमारी सरकार प्रजातंत्र में विश्वास रखती है, जनमत और बहुमत में विश्वास रखती है? इस देश में बोलने, सोचने, कपड़ा पहनने और आजीविका कमाने की आजादी है या कहीं न कहीं इन पर अंकुश लग गया है?’’

सुरजेवाला ने कहा, ‘‘आत्मनिर्भर भारत की बुनियाद पंडित जवाहरलाल नेहरू, सरदार पटेल और दूसरे स्वतंत्रता सेनानियों ने रखी थी. अब जब हम आत्मनिर्भर भारत की बात करते हैं तो यह सवाल पूछना पड़ेगा कि जो सरकार सार्वजनिक उपक्रमों को बेच दे और रेलवे एवं हवाई अड्डों का निजीकरण कर रही हो, वो इस देश की आजादी को सुरक्षित रख पाएगी?’’