नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को एक के बाद एक ट्वीट कर केंद्र की भाजपा सरकार पर हमला बोला. राहुल गांधी ने रक्षा मंत्रालय के एक उस दस्तावेज को लेकर सरकार को घेरा जिसे बाद में मंत्रालय की वेबसाइट से हटा लिया गया था. इसको लेकर और विजय माल्या को लेकर पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने सरकार पर कटाक्ष किया है. Also Read - मध्यप्रदेश: शिवराज सिंह चौहान ने किया ऐसा ट्वीट की भड़क गई कांग्रेस, कर डाली चुनाव आयोग से शिकायत

राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा, “जब जब देश भावुक हुआ, फ़ाइलें ग़ायब हुईं. माल्या हो या राफ़ेल, मोदी या चोक्सी… गुमशुदा लिस्ट में लेटेस्ट हैं चीनी अतिक्रमण वाले दस्तावेज़. ये संयोग नहीं, मोदी सरकार का लोकतंत्र-विरोधी प्रयोग है.” Also Read - एमपी में कांग्रेस उपचुनाव जीती, तो दोबारा "परदे के पीछे मुख्‍यमंत्री" बन जाएंगे दिग्विजय सिंह: ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया

बता दें कि पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ सीमा पर तनाव जारी है. इस मुद्दे पर मोदी सरकार के खिलाफ लगातार आक्रामक रुख अपनाए राहुल गांधी ने रक्षा मंत्रालय के एक हालिया दस्तावेज के हवाले से सवाल किया है कि प्रधानमंत्री आखिर झूठ क्यों बोल रहे हैं. हालांकि, अब उस दस्तावेज को रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट से हटा लिया गया है.

इससे पहले राहुल ने ट्वीट कर लिखा था, “चीन का सामना करना तो दूर की बात, भारत के प्रधानमंत्री में उनका नाम तक लेने का साहस नहीं है. इस बात से इनकार करना कि चीन हमारी मातृभूमि पर है और वेबसाइट से दस्तावेज़ हटाने से तथ्य नहीं बदलेंगे.”

राहुल ने शनिवार को ‘भारत छोड़ो आंदोलन’ की 78वीं वर्षगांठ पर कहा कि अब महात्मा गांधी के नारे ‘करो या मरो’ को ‘अन्याय के खिलाफ लड़ो, डरो मत’ के रूप में नए मायने देने होंगे.