चंडीगढ़: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में लागू किए गए कृषि विधेयकों का विरोध करने के मद्देनजर 3 से 5 अक्टूबर तक पंजाब में ट्रैक्टर रैलियों का नेतृत्व करेंगे, जिसमें पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह भी शामिल होंगे. पार्टी के सूत्रों ने यह जानकारी दी. पार्टी ने कहा, पंजाब के सभी मंत्री व कांग्रेस विधायक इस रैली में शामिल होंगे. Also Read - मध्य प्रदेश उपचुनाव: कमल नाथ का शिवराज पर तंज- अपने क्षेत्र का विकास न कर पाने वाला प्रदेश की तस्वीर क्या बदलेगा, मेरे क्षेत्र को देखो

इसमें पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत और प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराएंगे. इस दौरान किसानों की नाराजगी और उनके दर्द के लिए आवाज को बुलंद किया जाएगा, जिनकी आजीविका और भविष्य को केंद्रीय कानूनों ने दांव पर लगा दिया है. पंजाब में कांग्रेस के प्रवक्ता के अनुसार, राज्यभर के किसान संगठनों द्वारा समर्थित ट्रैक्टर रैलियों में 50 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय की जाएगी, जिसका प्रसार तीन दिनों में विभिन्न जिलों और निर्वाचन क्षेत्रों में किया जाएगा. Also Read - CM विजय रुपाणी का कांग्रेस पर तंज, 25 करोड़ में बिक जाएगी गुजरात की कांग्रेस पार्टी

इस तीन दिवसीय रैली के लिए सुबह 11 बजे का समय निर्धारित किया गया है और इस दौरान कोविड-19 के मानकों का खास ध्यान रखा जाएगा. रैली के अंतिम दिन 5 अक्टूबर को हरियाणा में कई कार्यक्रमों के माध्यम से विरोध प्रदर्शन किया जाएगा. Also Read - UP में कांग्रेस को बड़ा झटका: प्र‍ियंका से भी बात नहीं बनी तो पूर्व सांसद ने छोड़ी पार्टी, नेतृत्‍व पर सवाल