तिरुवनंतपुरम: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को दरियादिली दिखाते हुए केरल के एक कॉलेज में बने एक हेलीपैड से अपने हेलीकॉप्टर से पहले एक एयर एंबुलेंस को उड़ान भरने दी. चेंगनूर क्रिश्चन कॉलेज में हेलीकॉप्टर में चढ़ने के फौरन बाद, गांधी ने हेलीपैड पर एक एयर ऐंबुलेंस को खड़ा देखा और एसपीजी के कर्मियों से इसके बारे में पूछा. उन्होंने गांधी को बताया कि एयर ऐंबुलेंस को ह्रदय संबंधी बीमारी से ग्रस्त एक मरीज को चेंगनूर के एक राहत शिविर से अलपुझा मेडिकल कॉलेज ले जाया जाना है. कांग्रेस नेता और पूर्व विधायक पी सी विष्णुनाथ ने बताया, ‘ इसके बाद राहुल गांधी ने एसपीजी के कर्मियों से पहले एयर ऐंबुलेंस को उड़ान भरने की इजाजत देने को कहा और एयर ऐंबुलेंस के पहले उड़ान भरने की खातिर मार्ग प्रशस्त करने के लिए 30 मिनट इंतजार किया. Also Read - फिर टला कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव, कोरोना संकट बना वजह; सोनिया गांधी अंतरिम अध्यक्ष की जिम्मेदारी निभाती रहेंगी

केरल बाढ़ को बहुत बड़ी त्रासदी करार देते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आश्वस्त किया कि उनकी पार्टी मुआवजा देने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों पर दबाव डालेगी जो उन्हें प्रभावित लोगों को देना चाहिए. बाढ़ से बर्बाद हुए अलपुझा, एर्नाकुलम और त्रिशूर जिलों का दौरा करते हुए उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से राहत एवं पुनर्वास अभियानों में भाग लेने और लोगों के क्षतिग्रस्त मकानों को रहने योग्य बनाने में मदद करने की भी अपील की. उन्होंने कहा, ‘यह हम सभी के लिए बहुत बड़ी त्रासदी है. कई लोगों की जानें गई, कई लोगों ने अपनी संपत्ति गंवाई. मैं आप सभी को बताना चाहता हूं कि आप अकेले नहीं हो और हम सब आपके साथ हैं.

केरल के दो दिवसीय दौरे पर मंगलवार सुबह पहुंचे गांधी ने राहत शिविरों में लोगों से बात की. उन्होंने कोच्चि के समीप अलुवा में एक राहत शिविर में रह रहे लोगों से कहा, ‘सरकार को आपको मुआवजा देना चाहिए और सरकार को आपके मकान फिर से बनाने में मदद देनी होगी. हम विपक्ष में हैं और यह हमारा कर्त्तव्य है कि सरकार पर दबाव डाला जाए. बाढ़ प्रभावित लोगों से बात करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि हम बहुत बड़ी चीजें नहीं कर सकते क्योंकि पार्टी राज्य और केंद्र दोनों जगह सत्ता में नहीं है लेकिन हम हरसंभव मदद का वादा करते हैं.

उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नेताओं से लोगों को मुआवजा देने के लिए सरकार पर ‘‘दबाव’’ बनाने का अनुरोध किया. उन्होंने एर्नाकुलम जिले के उत्तर परवूर में एक राहत शिविर में लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘हम दिल्ली में भाजपा सरकार पर भी दबाव बनाएंगे.’गांधी ने आपदा के समय में एक साथ खड़े रहने के लिए केरलवासियों की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्हें अपने आप पर गर्व होना चाहिए. उन्होंने कहा कि सभी धर्म, समुदाय, जातियां एक साथ खड़ी हुई और त्रासदी का सामना किया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी फंड जुटा रही है ताकि वह लोगों का उनके मकानों के पुनर्निर्माण में मदद कर सकें.